spot_img

UP: स्कूली बच्चों और अभिभावकों को बड़ी राहत, शिक्षा विभाग ने दिया यह आदेश

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। उत्तर प्रदेश में स्कूली बच्चों के माता- पिता के लिए राहत भरी खबर है। खबर ये है कि उत्तर प्रदेश के सभी बोर्ड के स्कूलों में नए शैक्षणिक सत्र 2022-23 में भी फीस (UP School Fees) बढ़ोतरी नहीं की जाएगी। कोरोना महामारी के चलते माध्यमिक शिक्षा विभाग ने इस साल भी फीस न बढ़ाए जाने का निर्णय लिया है। विभाग ने कहा है कि सभी स्कूलों में 2019-20 वाली तय की गई शुल्क संरचना के मुताबिक ही फीस (UP School Fees) लागू रहेगी। कोरोना महामारी के बीच बच्चों के स्कूलों की फीस में वृद्धि न होने से पेरेंट्स को बड़ी राहत मिल गई है। यह आदेश माध्यमिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला की तरफ से जारी किया गया है।

आदेश ना मानने पर छात्र व पेरेंट्स कर सकते हैं शिकायत

अपर मुख्य सचिव की ओर से जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि अगर कोई स्कूल फीस (UP School Fees) बढ़ाता है तो अभिभावक व छात्र उत्तर प्रदेश स्वावित्त पोषित स्वतंत्र विद्यालय (शुल्क निर्धारण) अधिनियम, 2018 की धारा-आठ (एक) के अंतर्गत गठित जिला शुल्क निर्धारण नियामक समिति से इसकी शिकायत करेंगे, जिसके तहत मनमानी करने वाले स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी प्राइवेट स्कूल शुल्क (UP School Fees) बढ़ोतरी न करे, इसके लिए सतत निगरानी रखी जाए।

लगातार तीसरे साल नहीं होगी फीस वृद्धि

इससे पहले भी कोरोना संक्रमण के कारण शैक्षिक सत्र 2020-21 व 2021-22 में भी फीस (UP School Fees) बढ़ोतरी नहीं की गई थी। ऐसे में लगातार यह तीसरा साल है, जब प्राइवेट स्कूल मनमानी फीस नहीं बढ़ा सकेंगे। यह फैसला यूपी बोर्ड, CBSE व CISCE समेत अन्य सभी बोर्डों के प्राइवेट स्कूलों पर लागू होगा।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles