नौकरी लगी तो भूल गया पांच साल पुराना प्यार, दूसरी जगह कर ली सगाई। प्रेमिका को पता चला तो हुआ यह

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

पांच साल से चल रहे प्रेम प्रसंग के बाद जब प्रेमी की नौकरी लग गई तो वह परिजनों के साथ दूसरी जगह रिश्ता तय कर सगाई करने जा रहा था। प्रेमिका ने पुलिस की मदद से उन्हें रोका। काफी हंगामे के बाद पुलिस की मौजूदगी में पंचायत हुई और मंदिर में दोनों का विवाह करा दिया गया।
शाही थाना क्षेत्र के गांव विक्रमपुर आरती के परिजनों ने पुलिस से शिकायत की कि पड़ोस के अनुज भारती से आरती का पांच साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। अनुज भी लड़की वालों को चेतावनी दे चुका था कि युवती की कहीं और शादी न करे। आरती शादी करने को कहती तो वह टालने लगा। इसी बीच अनुज की मीरगंज सीएचसी में संविदा पर नौकरी लग गई। जिसके बाद वह प्यार को भूल गया और अपने परिजनों की इच्छानुसार बहेड़ी क्षेत्र की एक लड़की से मोटे दहेज के बदले शादी करने पर तैयार हो गया। रविवार दोपहर अनुज व उसके परिजन तीन कारों से गोद भराई की रस्म करने घर से निकले कि आरती ने 112 डायल पुलिस को फोन करके बुला लिया। पुलिस ने गांव के बाहर की गोद भराई का काफिला रोक दिया। आरती के परिजनों के साथ ही गांव के दर्जनों लोग पहुंच गए। दोनों पक्षों में जमकर नोकझोंक हुई जिसे पुलिस ने समझाकर शांत कराया। इस बीच युवती प्रेमी से ही शादी करने पर अड़ी रही। बस स्टैंड पर घंटों पंचायत चली इसके बाद दोनों पक्षों ने समझौतानामा पर हस्ताक्षर किए और विवाह कराने पर राजी हो गए। शाही के ही एक मंदिर में पुलिस व गांव वालों की मौजूदगी में विवाह सम्पन्न हुआ।

थाना अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह राणा ने बताया कि पुलिस मौके पर गई थी। दोनो पक्षों में आपसी सहमति के बाद लिखित में समझौता हुआ है और शाही के सिद्ध बाबा मंदिर में विवाह भी सम्पन्न हो गया है। पुलिस ने हिदायत दी है कि अब दोनों पक्ष मिलकर रहें। वर वधू एक दूसरे का साथ निभाएं। यदि लड़की का उत्पीड़न किया गया तो पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*