दो भाइयों ने अपनी बहन के यहां ही डाल दिया डाका, पुलिस ने किया खुलासा तो हैरान रह गए परिजन। जानिए फिर क्या हुआ…

न्यूज जंक्शन 24, लालकुआं।

कोतवाली क्षेत्र में युवती को बंधक बनाकर लाखों की लूट के सनसनीखेज मामले का पुलिस ने 24 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया है। पुलिस ने मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार करने के साथ ही लूट की नगदी व जेवरात भी बरामद कर लिया हैं। हैरान करने वाली बात यह है कि लुटेरे कोई और नहीं बल्कि युवती के के दोनों सगे भाई ही निकले।
मंगलवार की शाम कोतवाली में घटना का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव ने बताया कि नगीना कॉलोनी निवासी नसीम बानों पत्नी सिराज अली ने तहरीर दी थी कि सोमवार को तीन अज्ञात व्यक्तियों ने उसकी पुत्री रेशमा को बंधक बनाकर तथा नशे का इंजेक्शन लगा कर हाथ पैर बांध दिए और घर में रखी नगदी एवं जेवरात लूट ले गए। जिस पर पुलिस ने मामले की गहनता से तफ्तीश की तो चौंकाने वाला प्रकरण सामने आया। मामले में युवती के दोनों सगे भाई आरोपी निकले। आरोपित मोहम्मद चांद और मोहम्मद राज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लूट की नगदी व जेवरात बरामद कर लिए हैं। जांच में प्रकाश में आया कि सोमवार की दोपहर मोहम्मद राज ने अपने घर में अपनी बहन के साथ दीपक नाम के युवक को देख लिया था जिसकी जानकारी उसने अपने भाई मोहम्मद चांद को दी तब तक उक्त युवक फरार हो गया और दोनों भाइयों ने अपनी बहन के हाथ-पैर बांधे तथा नशे का इंजेक्शन लगा दिया। जब वह बेहोश हो गई तो दोनों भाईयों ने घर में रखी जेवर और नगदी चुरा ली और मामले को लूट की घटना का स्वरूप दिया।
एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी है।
पुलिस टीम में कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार ,वरिष्ठ उप निरीक्षक रोहतास सागर , उप निरीक्षक मनोज कुमार ,संजय बृजवाल , चंद्रशेखर जोशी ,कांस्टेबल तरुण मेहता, सुरेंद्र सिंह ,आनंदपुरी राजेंद्र मेहरा , सुखविंदर सिंह , गीता जोशी आदि शामिल रहे।

कुछ ऐसा रहा घटनाक्रम–
गौरतलब है कि सोमवार को नगर से सटी मलिन बस्ती नगीना कॉलोनी में दिनदहाड़े युवती को बंधक बनाकर लाखों की लूट का मामला सामने आया था। गंभीर रूप से घायल युवती को हल्द्वानी के बेस अस्पताल में भर्ती किया गया।
नगीना कॉलोनी निवासी व्यवसाई मोहम्मद सिराज अपनी पत्नी के साथ अपनी 21 वर्षीय पुत्री के लिए लड़का देखने सोमवार की प्रात 11 बजे बहेड़ी गए हुए थे वह बहेड़ी पहुंच कर अपना काम निपटा रहे ही थे कि तभी दोपहर बाद 3 बजे उनके बेटे राज मोहम्मद का फोन आया था कि उनके घर में लूटपाट हो गई है। जिसके बाद वह बैरंग लालकुआं को चल पड़े। राज मोहम्मद का कहना है कि माता पिता के बहेड़ी को जाने के बाद वह घर में अपनी बहन को छोड़कर दोस्तों के साथ घूमने चला गया था वह जैसे ही लगभग दोपहर 2 बजे घर पहुंचा तो उसकी बहन के हाथ-पांव बंधे हुए थे तथा उसके मुंह में कपड़ा ठूंसा गया था। साथ ही घर का सारा सामान बिखरा हुआ था और अलमारी के ताले भी टूटे हुए थे। उसने शोर मचाकर आसपास के लोगों को एकत्र किया और माता-पिता तथा कोतवाली पुलिस को घटना की जानकारी दी।
उसके बाद आसपास के लोगों की मदद से गंभीर रूप से बेहोश युवती को 108 द्वारा हल्द्वानी के बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया । युवती को नशीला इंजेक्शन लगाया गया जिसके उसकी कमर में निशान भी बने हुए थे। देर रात्रि नगीना कॉलोनी क्षेत्र से दर्जनभर ग्रामीण कोतवाली पहुंचे। युवती की मां नसीम बानो द्वारा घटना की तहरीर कोतवाली पुलिस को दी गई। जिसमें उन्होंने कहा था कि घटना में उनके घर में रखें 10 तोला सोने के जेवरात तथा 2 लाख रुपये नगदी लुटेरे लूटकर ले गए हैं। उनकी बेटी के साथ भी मारपीट की गई है। पीड़ित महिला का कहना है कि उन्होंने किच्छा में एक प्लाट देखा था इस सिलसिले में उन्होंने सवा तीन लाख रुपए अपने घर पर रखे थे। जिन्हें लुटेरे लूटकर ले गए।
घटना की जानकारी के बाद देर रात वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा ने कोतवाली में पहुंचकर घटना के विषय में विस्तार से जानकारी ली तथा मामले के जल्द खुलासे को लेकर कोतवाली पुलिस को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
पुलिस क्षेत्राधिकारी बीएस भाकुनी के नेतृत्व में पुलिस एसओजी की कई टीमें मामले के खुलासे को लेकर जुटी हुई थी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*