भाजपा की महिला नेता कर रही थी ब्लैकमेल, अवसाद में आकर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने उठा लिया सनसनीखेज कदम, घर में मचा कोहराम

296
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी। शहर के बेस अस्पताल के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के जहर खाने का मामला सामने आया है। इससे उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। घटना के पीछे बताया जा रहा है कि भारतीय महिला मोर्चा की एक पदाधिकारी कर्मचारी को ब्लैकमेल कर रही थी, जिससे तनाव में आकर कर्मचारी ने यह आत्मघाती कदम उठा लिया। परिजनों की तहरीर मिलने पर पुलिस ने महिला के खिलाफ जबरन वसूली के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार, बेस चिकित्सालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राम सिंह ने सोमवार दोपहर अपने ही घर में जहर खा लिया था। परिजनों ने जब उनकी हालत बिगड़ती देखी तो आनन फानन में उन्हें बेस चिकित्सालय लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने बताया कि उन्होंने जहर खाया है। चिकित्सकों के प्रयास से राम सिंह कुछ देर के लिए बेहोशी से बाहर आए और अपने परिजनों से बात भी की। तो उन्होंने बताया कि गौलापार के सुल्तान नगरी निवासी एक महिला जो अपने आप को भारतीय जनता पार्टी की महिला मोर्चा की पदाधिकारी भी बताती है, वह उन्हें शारीरिक शोषण के झूठे आरोप में फंसाने की धमकियां देकर उनसे रुपये देने का दवाब बना रही थी। इसी वजह से वे पिछले कुछ समय से अवसाद में चल रहे थे।

घटना के बाद कर्मचारी राम सिंह के बेटे राहुल ने पुलिस को शिकायती पत्र दिया, जिसमें कहा है कि पिछले छह माह से राम सिंह उक्त महिला के संपर्क में थे। महिला चौपहिया वाहन चलाने के समय सहयोग मांगने से राम सिंह के सम्पर्क में आई थी। इसके बाद महिला ने अपनी पारिवारिक परेशानियां बता कर राम सिंह का भावनात्मक रूप से समर्थन हासिल कर लिया।

राहुल के अनुसार काफी दिनों से उसके पिता तनावमें दिख रहे थे। वे न तो ज्यादा हंस बोल रहे थे और नहीं ठीक से खाना ही खा रहे थे। परिजनों द्वारा परेशानी पूछने पर वे बात को टाल जाते। सोमवार दोपहर 2 बजे अचानक उनका स्वास्थ्य बिगड़ा और बाद में राम सिंह ने स्वयं ही खुलासा किया कि उक्त महिला उन्हें रूपये ऐंठने के लिए ब्लैकमेल कर रही है। बेटे की शिकायत पर पुलिस ने महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।