spot_img

स्कूल में कमरा बंद कर शिक्षकों ने छात्र संग की क्रूरता, मौत, फोन पर चीखकर घरवालों से बचाने की लगा रहा था गुहार

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। उत्तर प्रदेश में एक स्कूल में शिक्षकों ने छात्र को कमरे में बंद कर इतना पीटा की वह मर ही गया (teachers were beaten the student with cruelty)। बच्चे पर घड़ी चाेरी करने का आरोप लगाया गया था। अब दिव्यांग पिता हाथ पैलाकर राेते हुए बेटे के हत्यारों पर कार्रवाई की मांग कर रहा है।

घटना कन्नौज के छिबरामऊ कोतवाली क्षेत्र के कसावा गांव की है। शनिवार 23 जुलाई को कसावा गांव निवासी जहांगीर का बेटा दिलशान खुद अपना एडमिशन कराने आरएस इंटर कॉलेज पश्चिमी बाईपास गया था। खेल के दौरान एक बच्चे ने किसी की घड़ी उठाकर एक दूसरे बच्चे के बैग में डाल दी। मामला जब अध्यापकों के संज्ञान में गया तो उन्होंने क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए दिलशान पर सारा आरोप मढ़ दिया और उसको एक कमरे में बंद कर कर जमकर मारा पीटा।

पीड़ित परिजनों ने आरोप लगाया है कि अध्यापकों ने दिलशान को लात-घूसों से जमकर मारा (teachers were beaten the student with cruelty)। फिर वहीं से दिलशान ने अपने पिता को फोन भी किया और कहा कि मुझे बचा लो आकर। यह लोग मुझे बहुत मार रहे हैं। पीड़ित दिव्यांग पिता ने रो-रोकर फोन पर ही वहां के अध्यापकों से विनती की कि चाहो तो मुझे मार लेना, अगर मेरे बेटे ने कोई गलती की हो। लेकिन, मेरे बेटे को छोड़ दो। आरोप है कि अध्यापकों ने दिव्यांग पिता की एक न सुनी और दिलशान को जमकर पीटा।

दिलशान जैसे-तैसे कर घर वापस आया तो उसको अचानक से उल्टियां होने लगीं। उल्टी होने के बाद उसको पास के ही एक डॉक्टर को दिखाया गया, जहां पर उसकी हालत सही नहीं हुई। वहां से उसे एक बड़े अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि वह मामले की जांच कर रही है।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!