सावधान : अब चीन का कैट क्यू वायरस ढा सकता है कहर, जांच में सिद्ध। पढ़िये वैज्ञानिकों की चेतावनी

170
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन24, नई दिल्ली।

अभी कोरोना वायरस का कहर थमा नहीं है कि अब कैट क्यू वायरस कहर ढा सकता है। यह वायरस भी चीन का है। आईसीएमआर ने जांच में इसके होने की पुश्टि कर दी है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने यह भी बताया है कि यह वायरस तेज बुखार, दिमागी बुखार और मेननजाइटिस के रूप में हमला करेगा। आईसीएमआर के राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान पुणे के सात वैज्ञानियों चेताया है कि चीन और वियतनाम में क्यूलेक्स मच्छरों और सुअरों में कैट क्यू वायरस पाया गया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि भारत मे भी मच्छरों की प्रजाति का बहुतायत में होने से सीक्यूवी के खतरे की आशंका पैदा हो गई है। इस वायरस के अन्य एशियाई देशों में भी पूरा खतरा है। यहां कई राज्यों में भी 883 जांचों में इस वायरस की एंटीबॉडी पाई गई है। आशंका जताई गई है कि कम से कम दो लोग कभी न कभी वायरस की चपेट में आ सकते हैं। मच्छर में सीक्यूवी तेजी से बढ़ता है और मच्छर के जरिये मानव शरीर मे इस संक्रमण के फैलने की आशंका ज्यादा है।