चाइनीज बीमारी कोविड के नाम से जाना जाएगा बरेली का ये अस्पताल, हुआ नामकरण

एनजेआर, बरेली
बरेली का सबसे बड़ा 300 बेड अस्पताल शुरू हो गया है लेकिन इसमें सामान्य मरीज नहीं बल्कि कोविड पेशेंट ही भर्ती किये जायेंगे। कोविड के नाम पर ही इस अस्पताल का नामकरण कोविड चिकित्सालय बरेली किया गया है।


कोरोना वैश्विक महामारी के चलते ही आनन-फानन 300 बेड अस्पताल शुरू कर यहां कोरोना मरीज भर्ती किये जा रहे थे लेकिन बिल्डिंग स्वास्थ्य विभाग के हैंडओवर नहीं हुई थी। मुख्यमंत्री योगी के निर्देश के बाद स्वास्थ्य विभाग ने औपचारिक उद्घाटन कर दिया। बेड की संख्या के आधार पर इसे 300 बेड अस्पताल ही कहा जा रहा था लेकिन दो दिन पहले ही अस्पताल के प्रवेश द्वार पर इसका नाम लिख दिया गया है। माना जा रहा है कि जल्द ही सरकारी कागजों में भी इसे कोविड चिकित्सालय का नाम दे दिया जाएगा। हालांकि कुछ दिन पहले स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की योजना थी कि बरेली या रुहेलखंड के किसी महापुरुष के नाम अस्पताल का नामकरण किया जाए।


दो साल से कवायद चल रही थी 300 बेड अस्पताल को शुरू करने की पर सिर्फ कागजी दौड़ चल रही थी। ऐसे में जब कोविड-19 वायरस का शहर में हमला हुआ तो स्वास्थ्य महकमे में हाथ-पांव फूल गए। आननफानन बिना बिल्डिंग हैंडओवर हुए ही 300 बेड अस्पताल को शुरू कर दिया गया। पहले स्क्रीनिंग और सैंपलिंग सेंटर खोला गया और फिर क्वारंटीन, कोविड-19 एल-1 शुरू हुआ था। अब यहां एल-2 स्तर की सुविधा शुरू की जा रही है। 18 वेंटिलेटर लगाए गए हैं और आईसीयू बनकर तैयार हो गया है। कई दिनों से अस्पताल के नाम को लेकर चर्चा चल रही थी। इसी बीच अस्पताल के मेन गेट पर कोविड चिकित्सालय बरेली लिखकर नामकरण कर दिया गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*