spot_img

गरीब बेटियों के शिक्षा पाने का सपना साकार करेंगे डीएम सविन बंसल। कन्या पूजन का उठाया यह कदम

न्यूज जंक्शन 24, हलद्वानी।

जिलाधिकारी श्री सविन बंसल महत्वाकाॅक्षी गरीब बेटियों के अच्छी शिक्षा के सपनो को साकार करने की दिशा में लगातार कार्य कर रहे हैं। श्री बंसल ने डी.फार्मा की छात्रा कु.अर्चना को आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए चैंतीस हजार(34000) रूपये तथा बी.एड की छात्रा कु.कान्ता को चालीस हजार (40000) रूपये की आर्थिक मदद प्रदान की।
श्री बंसल का मानना है कि उज्ज्वल भविष्य के लिए बेटियों का शिक्षित एवं सशक्तिकरण होना बहुत आवश्यक है। श्री सविन बंसल का यह भी मानना है कि शिक्षा किसी भी उन्नत राष्ट्र की आधारशिला है। शिक्षा न सिर्फ व्यक्ति के सर्वांर्गीण विकास का माध्यम है वरन् यह एक विचारशील समुन्नत सांस्कृतिक सभ्य राष्ट्र का निर्माण भी करती है। भारतीय समाज को उसके आदर्शों मूल्य आधारित सामाजिक परम्पराओं संवेदनशीलता सहिष्णुता का विकास करने मे सक्षम प्राचीन शिक्षा के कारण ही विश्व गुरू कहे जाने का गौरव प्राप्त रहा है। इस गौरवशाली इतिहास में बेटियों की शिक्षा का महत्वपूर्ण योगदान रहा है क्योंकि बच्चों की प्राथमिक पाठशाला उसका परिवार होती है और परिवार की आधारशिला बेटी के शिक्षित होने से ही मजबूत होती है।
जिलाधिकारी श्री बंसल अनाथ एवं गरीब परिवारों से शिक्षा के प्रति रूचि रखने वाली होनहार बालिकाओं की शिक्षा के प्रति बेहद संजीदगी से कार्य कर रहे हैं। गरीब बेटियों की पढ़ाई में आर्थिक तंगी के कारण उत्पन्न बाधाओं को दूर कर बेटियों को पंखो की उड़ान प्रदान करने का कर रहे हैं।
इस बात की बानगी एक बार पुनः तब देखने को मिली जब सितम्बर माह के प्रथम सप्ताह में जिलाधिकारी श्री बंसल को व्हाट्सअप पर भौनियाधार निवासी कु.अर्चना ने अप्रोच किया कि वह डी.फार्मा की छात्रा है। घर की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण पढ़ाई में बाधा आ रही है। कोरोना काल में पिता की आर्थिक खराब होने के कारण शुल्क जमा करने में असमर्थता व्यक्त करते हुए आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए आर्थिक मदद की गुहार लगायी। जिसका संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी श्री सविन बंसल ने उप जिलाधिकारी नैनीताल के माध्यम से वास्तविक स्थिति की जाॅच करायी। एसडीएम द्वारा जाॅच आख्या में बताया गया कि कु.अर्चना पूर्ण रूप से अपने पिता श्री नन्दलाल पर आश्रित है, जिनकी मासिक आय एक हजार पाॅच सौ रूपये आंकी गयी है। कु.अर्चना वर्तमान में कुमाऊॅ आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज एवं चिकित्सालय हल्द्वानी में डी.फार्मा प्रथम वर्ष में अध्ययनरत् है। कु.अर्चना द्वारा काॅलेज की कुल फीस उनसठ हजार (59000) रूपये के सापेक्ष पच्चीस हजार जमा कर दिये गए हैं तथा चैंतीस हजार (34000) रूपये की धनराशि जमा होनी शेष है। जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने सभी औपचारिकताऐं पूर्ण कराते हुए बालिका की पढ़ाई जारी रखने के लिए चैंतीस हजार (34000)रूपये जमा करा कर बालिका की आगे की पढ़ाई जारी रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
इसके साथ ही 16 सितम्बर को जवाहर खत्ता दमुवाढुंगा हल्द्वानी निवासी कु.कान्ता आर्या ने डीएम कैम्प कार्यालय में उपस्थित होकर जिलाधिकारी सविन बंसल को व्यथित होकर एवं दुःखी मन से बताया कि वह बी.एड की छात्रा है। छात्रा ने बताया कि वह अनाथ/बेसहारा है। आय का कोई स्त्रोत नहीं है। छात्रवृत्ति न मिल पाने व आर्थिक तंगी के कारण बी.एड की फीस जमा करने में असमर्थता जताते हुए आगे की पढ़ाई जारी रखने हेतु मदद की गुहार लगायी। जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने जिला प्रोबेशन अधिकारी से जाॅच कराते हुए बालिका की चालीस हजार (40000) रूपये की धनराशि जमा करायी जा रही।
दोनो बालिकाओं कु.अर्चना तथा कु.कान्ता आर्या ने उनकी शिक्षा को आगे बढ़ाने में मदद करने पर जिलाधिकारी श्री सविन बंसल का आभार व्यक्त किया।
गौरतलब है कि जिलाधिकारी श्री बंसल द्वारा बालिकाओं की शिक्षा एवं संर्वागीण विकास हेतु कैरियर काउंसिलिंग्स का आयोजन, कोचिंग की व्यवस्था, मार्गदर्शन एवं सहायता आदि का कार्य किया जा रहा है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!