spot_img

अल्मोड़ा जेल में बंद कुख्यात बदमाश ने आरएसएस नेता से मांगी दो करोड़ की रंगदारी, नहीं देने पर हत्या की धमकी। जानिए पूरा मामला

न्यूज जंक्शन 24, हरिद्वार।

अल्मोड़ा जेल में बंद कुख्यात बदमाश ने आरएसएस नेता एवं प्रॉपर्टी डीलर से दो करोड़ की रंगदारी वाट्सएप पर मांगी। डीलर ने पुलिस को उक्त नम्बर दे दिया। पुलिस ने उक्त नम्बर की जांच करते-करते तीन बदमाशों को दबोच लिया। तीनों बदमाश जेल में बंद कुख्यात के शूटर निकले हैं।
हरिद्वार के ज्वालापुर में एक प्रॉपर्टी डीलर मोनू त्यागी रहते हैं, मोनू राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की बड़े नेता भी है। सात सितंबर की रात उनके घर के पास बाइक सवार बदमाशों ने हवाई फायरिंग कर दी और फरार हो गए। मोनू ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस जांच कर रही थी कि इसी बीच मोनू त्यागी के व्हाट्सएप पर अज्ञात नंबर से दो करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने का मैसेज आया। मैसेज देख कर मोनू के होश उड़ गए। मैसेज में दो करोड़ में से पहले एक करोड़ रुपये देने को कहा था। साथ ही धमकी दी गई थी कि अगर इसका खुलासा किया तो जान से मार दिए जाओगे। लेकिन मोनू ने धमकी की परवाह किए बगैर उक्त मैसेज को पुलिस के लिए दिखाया। पुलिस ने वह नंबर सर्विलांस पर लगा दिया, नंबर की लोकेशन उधम सिंह नगर जिले के सितारगंज में मिली। पुलिस उसी नंबर पर जांच में जुट गई उसके बाद वह नंबर हरिद्वार में भी ट्रेस किया गया। गुरुवार को पुलिस ने ताना-बाना बुन तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।
ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि बदमाशों ने कबूल किया है की उनके द्वारा मांगी गई रंगदारी अल्मोड़ा जेल में बंद कुख्यात बदमाश कलीम पुत्र सलीम निवासी मंगलौर जिला हरिद्वार के कहने पर मांगी है। यह तीनों कलीम के शूटर हैं। उन्होंने बताया कि जांच की जा रही है। जल्द और लोग भी शिकंजे में होंगे। पूछताछ के लिए कलीम को रिमांड पर लेने का प्रयास किया जाएगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!