Haldwani : अब यहां गरजा धामी का बुलडोजर, मिट्टी में मिला दिया यह अतिक्रमण… फिर हुआ ये देखिए

120
खबर शेयर करें -

 

newsjunction24.com

हल्द्वानी (haldwani) : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अतिक्रमण मुक्त राज्य बनाने के निर्देशों के क्रम में धामी का बुलडोजर लगातार गरज रहा है। शनिवार को हल्द्वानी के गौलापार के बगजाला क्षेत्र में फिर एक बड़ी कारवाई हुई। यहां वनभूमि पर बने कई मकानों पर भारी पुलिस सुरक्षा के बीच बुलडोजर कहर बनकर गरजा। इसको लेकर क्षेत्र में एक बार फिर हड़कंप मच गया।

आपको बताते चलें कि हल्द्वानी अतिक्रमण पर कारवाई को लेकर आजकल देश स्तर पर सुर्खियों में है। अभी कुछ समय पहले ही हल्द्वानी के बनभूलपुरा में सरकारी जमीन पर कब्जा कर बनाए गए अवैध नमाज स्थल और मदरसा तोड़ने को लेकर जमकर बबाल हो गया था। एक समुदाय से जुड़े अराजकतत्वों ने पुलिस, प्रशासनिक और पत्रकारों की टीम पर पथराव, पेट्रोल बमों से हमला कर दिया था। इसमें कई मौत हो गई थीं। यही नहीं बनभूलपुरा थाना फूंक दिया था। जिसमें मौजूद तमाम पुलिस कर्मियों ने बमुश्किल जान बचाई थी। हालांकि इस मामले में मुखमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रशासन को स्पष्ट निर्देश दिए थे उपद्रवियों पर ऐसी कारवाई की जानी चाहिए कि नजीर बने। मुख्यमंत्री के आदेश के क्रम पर पुलिस और प्रशाहनिक टीम ने पूरी जांच पड़ताल के बाद उपद्रवियों को ढूंढ ढूंढकर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। एसएसपी प्रहलाद नारायण मीणा ने साफ कहा था कि दोषी बक्शा नहीं जाएगा और निर्दोष को छेड़ा नहीं जाएगा। वह खुद भी दिनरात अपनी टीम के साथ लगे रहे, यही वजह रही हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक और उसके बेटे को आखिरकार खोज ही निकाला।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-नैनीताल एनएच में धूं-धूं कर जला ट्रक, बाल-बाल बचा चालक

इतनी बडी घटना के बाद भी अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासनिक तेवर लगातार बने हुए हैं। धामी का बुलडोजर कुछ समय ठहरने के बाद फिर गर्जना शुरू हो गया है। बागजाला में वन विभाग की करीब सौ से ज्यादा हेक्टेयर जमीन पर अतिक्रमण है। जहां लोगों ने सौ सौ रुपए के स्टांप पर प्लाट खरीद लिए और तेजी से मकान बनाना शुरू कर दिया। इसमें कुछ भूमि लीज पर बताई जा रही है, जिसकी अवधि काफी समय पहले खत्म हो चुकी है। अधिकारियों ने इस अतिक्रमण की जानकारी शासन को दी और फिर निर्देश मिलते ही यहां बसे लोगों को हटने के लिए पहले मुनादी कराई। सभी को यह बता दिया गया था की शनिवार को अतिक्रमण तोड़ा जाएगा। शनिवार सुबह होते ही धामी का बुलडोजर भारी पुलिस सुरक्षा के बीच बागजला क्षेत्र में पहुंच गया और गर्जना शुरू हो गया। कुछ लोग एकत्र भी हुए लेकिन पुलिस की जबरदस्त सुरक्षा को देख अतिक्रमणकारी किसी भी तरह के विरोध की हिम्मत नहीं जुटा सके। बुलडोजर ने पहले चरण ।।में करीब आठ घरों पर कारवाई की है। इस दौरान पूरा बागज़ाला क्षेत्र छावनी बना रहा।