मैं चुनाव हारा हूं पर टूटा नहीं, अब शिक्षा क्रांति के लिए ऐसे रचूंगा इतिहास। विनय खंडेलवाल ने जारी किया भावुक संदेश

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

बड़ी उम्मीदों से शिक्षक एमएलसी चुनाव में ताल ठोकने उतरे बरेली के खंडेलवाल कॉलेज के मालिक विनय खंडेलवाल विपरीत चुनाव परिणाम से हैरान जरूर हैं पर बोले निराश नहीं हूं। परिणाम घोषित होने के बाद उन्होंने फेसबुक वीडियो पर भावुक संदेश जारी किया है। उन्होंने कहा कि वह स्वामी विवेकानंद के आदर्शों पर चलने वाले व्यक्ति हैं, विवेकानंद जी ने कहा है ‘उठो जागो, आगे बढ़ो और तब तक बढ़ो जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाए’। लिहाजा मैं उसी उद्देश्य को आधार बनाकर काम कर रहा हूं। इस चुनाव में मेरी कोशिश हर शिक्षक और शिक्षा के स्तर को जानने की रही। दुर्दशा के स्तर को सुधारने के लिए ही उन्होंने इस संघर्ष में भागीदारी की। शिक्षकों तक या तो मैं अपने मुद्दे साझा नहीं कर सका या फिर शिक्षकों की प्राथमिकता कुछ और रही। फिलहाल इस चुनाव ने मुझे बहुत अनुभव दिया है, इसका लाभ मुझे अपने मिशन में लाभकारी साबित होगा। इस संघर्ष में तमाम लोग ईमानदारी से जुड़े और कुछ ने धोखा भी दिया। इन अनुभवों ने मुझे परिपक्व बनाया है। इसका लाभ लेते हुए मैं निश्चित रूप से नया कीर्तिमान स्थापित करूँगा। उनकी मंशा एक संगठन बनाकर काम करने की है, ताकि वे अपने उद्देश्यों को पूरा कर सकें।

वीडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें…

 

 

मेरा प्रयास था नाम और शोहरत जिस समाज ने मुझे दी है, मैं उसके लिए कुछ योगदान कर सकूं। इसी मंशा से सदन में पहुंचकर सरकार का ध्यान शिक्षा के कमजोर स्तर को सुधारने की ओर दिलाने का था। यह संकल्प पूरा करने के लिए वे सदन में भले न पहुंच सके हों, लेकिन सड़क पर संघर्ष के जरिये सरकार का ध्यान आकर्षित करेंगे। इसमें नए एमएलसी ढिल्लो साहब का भी सहयोग लिया जाएगा। रणनीति बनाकर संगठन का निर्माण करूँगा, जिसमें जागरूक शिक्षक और शिक्षा क्षेत्र से जुड़े अन्य बुद्धिजीवियों को जोड़कर एक नई क्रांति को जन्म दिया जाएगा। उन्होंने सहयोग करने और नहीं करने वालों का आभार जताते हुए यह भरोसा भी दिलाया है कि वह हर वक्त पूरी तत्परता से सभी के सहयोग के लिए खड़े हैं। क्योंकि उनका मकसद सिर्फ चुनाव लड़ना नहीं बल्कि चुनौतियों से लड़कर उनको खत्म कराने का है। विदित रहे कि विनय खण्डेलवाल बरेली-मुरादाबाद एमएलसी सीट से निर्दलीय चुनाव लड़े थे। प्रचार में उन्होंने राष्ट्रीय दलों के भी दांत खट्टे कर दिए थे। उन्होंने 585 मत प्राप्त किये। भाजपा प्रत्याशी हरि सिंह ढिल्लो ने चुनाव में विजय दर्ज की।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*