प्रॉपर्टी के लालच में पूत बना कपूत, वकील बेटे ने अपने माँ-बाप को ही गोलियों से भूना। पढ़िये पूरा मामला

312
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

प्रॉपर्टी विवाद में एक बेटे ने अपने मां-बाप की ही जान ले ली। दोनों को गोलियों से भूनने के बाद आरोपी भाग गया। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी वकील है।

घटना जिले की तहसील मीरगंज के बहरौली की है। यहां के निवासी लालता प्रसाद (72) के दो बेटे और चार बेटियां हैं। लालता अपनी एक बेटी व दो बेटों की शादी कर चुके थे। एक बेटी उनके साथ रहती थी। उनके दोनों बेटे दुर्गेश और उमेश वकील हैं। दोनों को उन्होंने गांव में दो मकान बनवाकर दे दिए। एक मकान में लालता प्रसाद खुद रहने लगे। दुर्गेश जिस मकान में रहता था, उसका निकास उसके पिता के मकान से होकर जाता है। इसको लेकर बाप-बेटे के बीच विवाद चल रहा था। लालता निकास के लिए दुर्गेश को रास्ता दे रहे थे पर दुर्गेश की अपने पिता के मकान पर नजर थी। इसको लेकर बाप-बेटे के बीच कई बार झगड़े हो चुके थे लेकिन रिश्तेदारों ने पंचायत कर मामले को सुलझा दिया।

सोमवार सुबह करीब 5 बजे दुर्गेश बंदूक लेकर पिता के घर जा धमका। वह बरामदे में थे। दुर्गेश ने ताबड़तोड़ उन पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं। उस वक्त दुर्गेश की मां मोहन देई (70) शौचालय में थी। आवाज सुनकर वे बाहर दौड़ी। दुर्गेश ने उन पर भी गोलियां बरसा दीं। दोनों तड़प-तड़प कर मौके पर ही मर गए। इसके बाद दुर्गेश फरार हो गया। सूचना पर एसएसपी रोहित सिंह सजवान, एसपी देहात संसार सिंह, सीओ और पुलिस वहां पहुंच गई। जाँच कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।