लॉकडाउन में बेरोजगार हुआ तो पत्नी ने छोड़ा साथ, पति ने बच्चों संग गटक लिया जहर।

488
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, रामनगर।

रामनगर से लगे अल्मोड़ा जिले का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां अल्मोड़ा जनपद के एक व्यक्ति ने अपने बच्चों सहित आत्मघाती कदम उठा लिया है। उसने अपने तीन बच्चों के साथ जहर खा लिया साथ हीे अपने दो बैलों को भी विषाक्त पदार्थ दे दिया। बैलों की मौत हो गई है। संयुक्त चिकित्सालय रामनगर में प्राथमिक उपचार के बाद उसे हल्द्वानी के बेस चिकित्सालय रेफर कर दिया गया है। घटना का कारण पत्नी वियोग और बेरोजगारी बताया जा रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार की देर रात अल्मोड़ा जनपद के सरायखेत निवासी 40 वर्षीय महिपाल सिंह ने पहले अपने दो बैलों को भी विषाक्त पदार्थ खिलाया। फिर अपनी बेटी हिमांशी (9 वर्ष ) यशपाल (12) वर्ष व हंसपाल (13 वर्ष) को जहरीला पदार्थ खिलाने के बाद खुद भी जहर गटक लिया। इसकी भनक लगते ही परिजन एवं ग्रामीण चारों को सुबह रामनगर के संयुक्त चिकित्सालय उपचार के लिए लाए। वहां हालत बिगड़ने पर उन्हें हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। बताया गया है कि चारो बेस चिकित्सालय के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती हैं। जहां महिपाल की हालत गंभीर है, जबकि बच्चों की हालत स्थिर है। बताया गया है कि महिपाल लॉक डाउन से पहले दिल्ली में प्राइवेट जॉब करते थे। मार्च में लॉक डाउन लागू होने पर घर आ गए थे। तब से बेरोजगार थे और खेतीबाड़ी कर रहे थे। खेती से पेट भरने लायक भी नहीं हो रहा था। साथ ही पत्नी कुछ समय पूर्व दिल्ली चली गई थी। इस कारण वह मानसिक रूप से परेशान थे।