लॉक डाउन में तगड़ा नुकसान झेल रहे होटल कारोबारी सरेंडर करेंगे बिजली के कनेक्शन

बरेली। कोरोना के कारण लॉकडाउन हुआ तो होटल इंडस्ट्री का भी हाल बेहाल हो गया। परेशान होटल कारोबारी
खर्चे कम करने में जुटे हैं। तमाम होटल स्वामियों ने तो बिजली का कनेक्शन कटवाने का फैसला कर लिया है। सरकार से टैक्स और जीएसटी में माफी की मांग भी की है। होटेलियर वेलफेयर एसोसिएशन ने पर्यटन विभाग को अपना मांग पत्र भेजा है।
होटेलियर वेलफेयर एसोसिएशन बरेली के अध्यक्ष डॉ अनुराग सक्सेना ने कहा कि बिजली के फिक्स चार्ज ही डेढ़ से दो लाख तक आते हैं। हाल फिलहाल बिजली की अधिक आवश्यकता नहीं है। इसके चलते ही तमाम होटल स्वामियों ने बिजली कनेक्शन तीन माह के लिए सरेंडर करने का फैसला किया है।


एसोसिएशन के सचिव शुजा खान ने कहा कि होटल उद्योग पहले से ही गंभीर संकट से गुजर रहे थे। कोरोना के कारण यह संकट और भी ज्यादा गहरा गया है। नगर निगम हम लोगों के ऊपर दो-तीन लाख के टैक्स निकाल रहा है। यदि इसको ही माफ कर दिया जाए तब भी काफी राहत मिलेगी।


होटल बरेली पैलेस के मालिक सतीश अग्रवाल ने कहा कि होटल कारोबारियों की आय पूरी तरह बंद हो गई है। बिजली का बिल, टैक्स, कर्मचारियों का वेतन, बैंक की किस्त आदि सभी खर्चे चल रहे हैं। सरकार को होटल इंडस्ट्री के बारे में गंभीरता से विचार करना होगा। नहीं तो एक बड़ा सेक्टर बर्बाद हो जायेगा।

यह हैं मांगे

0 नगर निगम का टैक्स एक वर्ष के लिए माफ किया जाए
0 बिजली का बिल 50 फीसदी तक कम किया जाए। 0 कमर्शियल कनेक्शन की यूनिट पर भी 50 फीसदी की छूट मिले
0 बिजली का फिक्स चार्ज पूरी तरह से समाप्त किया जाए।
0 लॉकडाउन पीरियड में कर्मचारियों के वेतन की जिम्मेदारी सरकार उठाए।
0 अगले एक वर्ष के लिए सभी तरह के टैक्सों से छूट प्रदान की जाए
0 जीएसटी में भी होटल इंडस्ट्री को राहत दी जाए

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*