जंगल की आग में जलने से बचे मंत्री, वीआईपी कार छोड़ पैदल भागे। जानिए फिर क्या हुआ

 

कैमूर : चैनपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं बिहार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहम्मद जमा खां बुधवार को जंगल की आग में फंस गए। वह एक गांव में तेरहवीं संस्कार कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे। आग में फंसने से परेशान मंत्री अपना काफिला छोड़ भाग छूटे, बमुश्किल वह अपनी जान बचा सके। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आग लगने के कारण की जांच करने के निर्देश दिए हैं।
चैनपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम लोहरा में किसी व्यक्ति के तेहरवीं संस्कार में शामिल होने के लिए प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मो.जमा खां काफिले के साथ जा रहे थे। रास्ते में तेल्हाड़ा कुंड के समीप जंगल की आग भयानक रूप से धधकती आ रही थी। काफिला तेजी के साथ आगे बढ़ रहा था। मगर जब आग सड़क तक पहुंची तो ड्राइवर ने गाड़ियां रोक दीं। गाड़ियां पीछे मोडनी चाही तो आग से काफी हद तक घिरी दिखी। ऐसे में हड़कंप मच गया। मंत्री, सुरक्षा कर्मी और कार्यकर्ताओं ने गाड़ियां छोड़ पैदल ही दौड़ लगा दी। जिस पर मंत्री की जान बच पाई। मंत्री ने तत्काल उच्च अधिकारियों से बात कर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां भिजवाकर आग पर काबू पाया। मंत्री ने बाद में कहा कि जान बच गई, इसमें खुदा और बुजुर्गों का आशीर्वाद ही काम आया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*