spot_img

सावन में चमत्कार : 200 साल पुराना पीपल का पेड़ गिरा तो प्रकट हुए महादेव, एक साथ मिले पांच शिवलिंग

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। सावन के महीने में चमत्कार हो रहे हैं। मऊ में सरयू नदी में 30 किलो चांदी का शिवलिंग मिलने केे कुछ दिनों बाद अब फिरोजाबाद में एक चमत्कार हुआ है। यहां कस्बा मुस्तफाबाद में 200 साल पुराने पीपल के पेड़ के नीचे सफेद संगमरमर से बने पांच शिवलिंग मिले हैं (five Shivlings found)।

200 साल पुराने यह पेड़ शनिवार को अचानक गिर गया। इसके बाद पांच शिवलिंग देखकर लोग हैरान रह गए। एक शिवलिंग का आकार बड़ा है, उसके पास चार छोटे-छोटे शिवलिंग स्थापित हैं। सावन में शिवलिंग निकलने की सूचना पर ग्रामीणों ने पूजा-अर्चना शुरू कर दी है। आसपास के गांवों के लोग शिवलिंग के दर्शन करने आ रहे हैं। वहीं ग्रामीणों ने इस जगह पर भव्य मंदिर बनवाने की बात कही है।

जानकारी के मुताबिक, मुस्तफाबाद निवासी विजयपाल सिंह के खेत में करीब 200 वर्ष पुराना विशालकाय पीपल का पेड़ लगा हुआ था। शनिवार की शाम अचानक पेड़ गिर गया। जब ग्रामीण पेड़ के पास पहुंचे तो जिस जगह से पेड़ उखड़ा था, वहां सफेद संगमरमर के पांच शिवलिंग स्थापित मिले (five Shivlings found)। शिवलिंग के आसपास चबूतरा भी बना हुआ था। ग्रामीणों ने बताया कि पेड़ के नीचे से शिवलिंग के साथ चार अन्य विग्रह भी मिले हैं, जो पार्वती, नंदी, भगवान गणेश एवं कार्तिकेय के हैं। वर्षों पुराने पेड़ के नीचे से निकले शिवलिंग में कोई नुकसान नहीं हुआ है। लोग इसे भगवान शिव को चमत्कार मान रहे हैं।

ग्रामीणों का कहना है कि पीपल के पेड़ पर कांवड़ का गंगाजल चढ़ाने की वर्षों पुरानी परंपरा रही है। यहीं पर पीपल का पेड़ गिरने पर अब शिवलिंग प्रकट हुआ है। इसलिए गांव के 20 से अधिक युवक सोरोंजी नामक स्थान से गंगाजल लेने गए हैं। सोमवार को भगवान भोलेनाथ का गंगाजल से अभिषेक किया जाएगा। वहीं, ग्राम प्रधान मनोज यादव ने कहा कि जहां पर शिवलिंग स्थापित हैं, वहां भव्य मंदिर बनाया जाएगा। इसके लिए खेत मालिक विजयपाल और उनके परिवार के लोगों ने एक बीघा से अधिक जमीन देने की बात कही है।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!