spot_img

अंकिता हत्याकांड में नया खुलासा, हत्या को लेकर अभी तक बताई गई कहानी निकली झूठी

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून। अंकिता हत्याकांड में आज एक और खुलासा हुआ है। मामले में अभी तक बताई गई कहानी झूठी निकली। पुलिस की टेक्निकल टीम ने आरोपी पुलकित की एक और झूठ का पर्दाफाश कर दिया है। जिसके बाद पुलकित ने सारी सच्चाई खोल कर रख दी है।

दरअसल, गिरफ्तारी के बाद पुलकित ने बताया था कि अंकिता ने उसका फोन तोड़ दिया था, जिससे गुस्से में आकर उसने अंकिता को धक्का दे दिया था और वह नहर में जा गिरी थी। मगर यह कहानी अब झूठी निकली। पुलिस के टेक्निकल एक्सपर्ट ने पाया कि उसका मोबाइल वारदात के अगले दिन स्विच ऑफ हुआ था। पुलकित ने पुलिस को बताया कि उसने हत्या के अगले दिन मोबाइल नहर में फेंका था ताकि अपनी कहानी सिद्ध कर सके। पुलिस दो दिनों से पुुुलकित और उसके दोस्तों से पूछताछ कर रही है।

पुलकित ने सोची-समझी साजिश के तहत अंकिता की हत्या की थी। 18 सितंबर को नहर में धक्का देकर अंकिता की हत्या को उसने दुर्घटना दर्शाने के लिए मोबाइल को आधार बनाया था। मगर, पुलिस के टेक्निकल एक्सपर्ट की जांच में पता चला कि उसका मोबाइल अगले दिन दोपहर में बंद हुआ था। वह दूसरे मोबाइल पर व्हॉट्सएप चला रहा था। शनिवार को एसआईटी के साथ पुलिस की टेक्निकल एक्सपर्ट की टीम भी मौजूद थी।

उसने पुलकित को सामने बैठाकर इस बात के प्रमाण दिखाए। सूत्रों के मुताबिक, वह कभी हां तो कभी ना करता रहा। लेकिन, बाद में बताया कि अंकिता की हत्या करने के बाद जब वापस आया तो कोई कहानी बुननी थी ताकि यह हादसा लगे। ऐसे में मोबाइल अगले दिन नहर में फेंक दिया था। यही कारण है कि मोबाइल पर 19 सितंबर को भी घंटी जा रही थी।

सूत्रों के मुताबिक, उसे इस बात की जानकारी भी थी कि जांच हुई तो वह सीसीटीवी फुटेज में आ सकता है। वह मोबाइल को उसी स्थान पर फेंकना चाहता था, जहां अंकिता को धक्का दिया। सीसीटीवी से बचने के लिए उसने दूसरा रास्ता चुना। मगर, बिना सीसीटीवी में आए वह इस जगह पर नहीं पहुंच सकता था। ऐसे में वह जंगल के रास्ते नहर तक पहुंचा और वहां मोबाइल फेंक दिया। मगर, यह स्थान भी उसी टावर लोकेशन में था, जिसमें घटनास्थल है।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!