बूढ़े शेर तौकीर की इटावा सफारी में मौत, बरेली में होगा पोस्टमार्टम

इटावा सफारी में शुक्रवार रात को बीमार शेर तौकीर की मौत हो गई। उसे 25 सितंबर को गुजरात के जूनागढ़ से यहां लाया गया था। उसे सफारी के अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां देर रात दम तोड़ दिया। सफारी प्रशासन में हड़कंप मच गया है। शव का पोस्टमार्टम बरेली स्थित आईवीआरआई में कराया जाएगा।
तौकीर ने 6 अक्तूबर को खाना बंद कर दिया था। सफारी के डॉक्टरों ने उसका इलाज किया। इंडियन वेटनरी रिसर्च इंस्टीटयूट बरेली के डॉक्टरों ने भी 10 अक्तूबर को उसका चेकअप किया और कुछ दवाइयां लिखीं। अगले ही दिन शाम 6 बजे शेर की तबीयत बिगड़ी तो डॉक्टर उसे सफारी के अस्पताल ले गए। कमजोरी के कारण उसे ड्रिप चढ़ाई गई। रात 10 बजे शेर ने सफारी के अस्पताल में चहलकदमी की लेकिन उसके बाद अचानक देर रात करीब एक बजे उसकी सांसें थम गईं।
सफारी के निदेशक वीके सिंह ने बताया कि गुजरात से लाए गए सात शेरों का स्वास्थ्य परीक्षण लगातार आईवीआरआई बरेली, पं. दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा संस्थान मथुरा के विशेषज्ञों से कराया जाता रहा है। 10 अक्तूबर को आईवीआरआई के डॉ. एएम पावड़े व डॉ. एम करीकलन ने दौरा किया था। मथुरा के डॉ. आरपी पांडेय की टीम ने भी शेरों का परीक्षण किया था। उन्होंने लिखित सुझाव दिए थे जिनके आधार पर डॉ. गौरव श्रीवास्तव और डॉ. आरपी वर्मा ने तौकीर का इलाज किया पर तौकीर की सेहत में सुधार नहीं हो सका।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*