पादरी फंसे विदेशी युवती के प्यार में, गंवा बैठे 3.50 लाख की रकम, जानिए मामला

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

केरल के एक पादरी फेसबुक पर विदेशी युवती के प्यार में फंस गए। युवती ने उन्हें महंगे गिफ्ट भेजे। उसे एयरपोर्ट से छुड़ाने के लिए कस्टम ड्यूटी के नाम पर साढ़े तीन लाख की ठगी कर ली। तफ्तीश में अकॉउंट बरेली जिले के आंवला थाना क्षेत्र का निकला। अकॉउंट का संचालन बदायूं के बिसौली निवासी युवक कर रहा है। एडीजी के आदेश पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

पुष्प विहार दिल्ली निवासी जयशंकर टीएस ने बताया कि केरल के फादर जोमन मनालल उनके फ्रेंड हैं। उनके दोस्त के फेसबुक पर एक मैसेज आया। मैसेज करने वाली ने खुद को रेगिना हेंडर्सन निवासी यूनाइटेड किंगडम बताया। उसने पादरी को यूनाइटेड किंगडम से आईफोन, लैपटॉप, 50 हजार जीबीपी यानी करीब 46 लाख रुपए और अन्य सामान गिफ्ट के तौर पर भेजने की बात कही। उसने उनके व्हाट्सएप नम्बर पर कोरियर से सामान भेजने की फर्जी रसीद भी भेजी।


उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट दिल्ली पर कस्टम के पास सामान होने के बहाने से डेढ़ लाख रुपयों की डिमांड की। उनके पास एक फोन भी आया, जिसमें युवक ने खुद को कस्टम अधिकारी बताया। भरोसे में लेकर साढ़े तीन लाख रुपए अपने बैंक खाते में जमा करा लिए। पादरी ने बैंक अकाउंट की डिटेल चेक की तो पता चला कि अकाउंट नंबर कस्टम डिपार्टमेंट का नहीं है, बल्कि आंवला एसबीआई ब्रांच में अकिल नवी का है। इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने बताया कि एडीजी के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू करा दी गई है।

इस मामले की विवेचना कर रहे इंस्पेक्टर क्राइम उदयवीर सिंह यादव का कहना है कि खाताधारक अकिल नवी बिसौली बदायूं का रहने वाला है।शाखा प्रबंधक ने जानकारी के नाम पर उसका केवल नाम और पता बताया। प्रबंधक का कहना है कि खाता संबंधी सभी रिकॉर्ड लखनऊ चला जाता है, वहीं से वापस आएगा। उन्होंने तो इस खाते में खाताधारक की शिनाख्त न होने की बात भी कही है। लखनऊ से रिकॉर्ड आने के बाद ही जांच की कार्रवाई आगे बढ़ सकेगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*