News in kashipur : लोग कोरोना मरीजों की तीमारदारी में लगे थे, इधर अस्पतालों से बाइकें पार कर रहा था यह गैंग। हुआ बड़ा खुलासा

 

काशीपुर : कोरोना काल में जहां अस्पतालों में लोगों की भीड़ बढ़ रही थी, ऐसे में चोरों ने उसमें अपना रास्ता तलाश लिया। कोरोना मरीजों के तीमारदारों की बाइकों को पीकर5 करना शुरू कर दिया। काशीपुर पुलिस ने बाइक चोरों का एक बड़ा गैंग गिरफ्तार किया है। पुलिस ने चोरी की 11 बाइकों के साथ पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है।

बताते चलें कि काशीपुर में पिछले दिनों दोपहिया वाहनों की चोरी की घटनाओं के ग्राफ में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही थी। कोविड-19 का फायदा उठाकर दोपहिया वाहन चोर अस्पतालों के बाहर खड़ी बाइकों पर हाथ साफ करते थे। जिसको लेकर पुलिस वाहन चोरों से काफी परेशान थी। काशीपुर में बढ़ रही दोपहिया वाहन चोरी की घटनाओं के खुलासे के लिए ज़िले के पुलिस कप्तान दिलीप सिंह कुंवर के निर्देश पर अपर पुलिस अधीक्षक व पुलिस क्षेत्राधिकारी ने संयुक्त रूप से कोतवाली प्रभारी के नेतृत्व में टीम का गठन किया। कोतवाली प्रभारी के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर ग्राम खड़कपुर देवीपुरा टंकी तिराहे के पास दढ़ियाल रोड पर खाली प्लाट से पांच अभियुक्त गणों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है और इनकी निशानदेही पर चोरी की गई 11 बाइकों को भी बरामद कर लिया है। पुलिस इन वाहन चोरों का अपराधिक इतिहास खंगालने में लगी हुई है। एएसपी प्रमोद कुमार ने कोतवाली मे खुलासा करते हुए बताया कि पिछले काफी दिनों से वाहन चोर नगर क्षेत्र में कोविड-19 का फायदा उठाकर सक्रिय होते दिखाई दे रहे थे। पुलिज़ गिरफ्त में आये 5 में से तीन अभियुक्त क्रमशः गजेंद्र कुमार, विशाल कुमार और आकाश चौहान काशीपुर के आईटीआई थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं जबकि दो अन्य अभियुक्त नीरज कुमार और परविंदर कुमार उत्तर प्रदेश के जिला बिजनौर के स्योहारा के रहने वाले हैं। पुलिस के मुताबिक अभियुक्त गजेन्द्र कुमार भीड़भाड़ वाले अस्पतालों के बाहर से मरीजों के तीमारदारों की खड़ी बाइकों पर हाथ साफ किया करता था, इन लोगों के द्वारा नव्या हॉस्पिटल, सूद अस्पताल, सहोता हॉस्पिटल थाना कुंडा क्षेत्र स्थित नवजीवन हॉस्पिटल तथा उत्तर प्रदेश के जिला मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा तहसील के जनसेवा केंद्र और लाइफलाइन हॉस्पिटल के बाहर से बाइकें चुराईं थीं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*