उत्तराखंड में Covaxin टीके की पहली खुराक देने पर रोक, इस वजह से सरकार ने उठाया कदम

देहरादून। कोरोना के खिलाफ जंग में वैक्सीन ही एकमात्र हथियार मानी जा रही है, मगर देश में इसे लेकर लगातार संकट बना हुआ है। अब वैक्सीन की कमी को देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। उसने प्रदेश में कोवैक्सीन टीके की पहली खुराक देने पर रोक लगा दी है। प्रदेश में अब कोवैक्सीन की पहली खुराक ले चुके लोगों को दूसरी खुराक का टीका लगाया जाएगा।

यह भी पढ़ें : Corona vaccine : छह महीने के भीतर कभी भी ले सकते हैैं कोविशील्ड की दूसरी डोज, पढ़िये नया फैसला

यह भी पढ़ें : Vaccination news : अब इन लोगों को घर के नजदीक ही लगेगी वैक्सीन, केंद्र सरकार ने जारी की अपडेट गाइडलाइन।

दरअसल, उत्तराखंड में 18-44 आयु वर्ग का टीकाकरण दस मई को शुरू हुआ था। अब तक राज्य में इस आयु वर्ग के चार लाख 64 हजार 837 व्यक्तियों को टीका लग चुका है, मगर कुछ दिन पहले वैक्सीन की कमी के कारण इस आयु वर्ग का टीकाकरण ठप हो गया था। टीकाकरण तो दोबारा शुरू हो गया है, मगर शुरुआती चरण में कोवैक्सीन लगवा चुके युवा दूसरी खुराक के लिए परेशान हो रहे हैं। कारण यह कि कोवैक्सीन का स्टाक सीमित है और फिलहाल इस आयु वर्ग के व्यक्तियों को सिर्फ कोविशील्ड लग रही है। इस टीके की दूसरी खुराक 28 से 42 दिन के बीच लगती है।

ऐसे में युवा इस बात से तनाव में हैं कि उन्हें अगली खुराक कब लग पाएगी। इस कारण प्रदेश सरकार ने पहली खुराक देने पर रोक लगाते हुए केवल दूसरी खुराक ही देने का निर्णय लिया है।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*