spot_img

RBI ने इन दो बैंकों के ग्राहकों को दिया झटका, पूरे पैसे निकालने पर लगाई रोक, कहीं आप भी तो नहीं इनके खातेदार

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने यूपी के दो सहकारी बैंकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। यह कार्रवाई बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट के अंतर्गत की गई है। बैंकों की वित्तीय हालत खराब होने के बाद रिजर्व बैंक ने दो सहकारी बैंकों पर प्रतिबंध लगा दिया। अब इन बैंकों से एक लिमिट में ही पैसा नहीं निकाला जा सकेगा। जब तक रिजर्व बैंक अगला कोई आदेश नहीं देता, तब तक ग्राहकों के पूरे पैसे निकालने पर रोक रहेगी (banning the withdrawal entire amount from these two banks)। कार्रवाई के तहत सहकारी बैंकों के खिलाफ कई तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं।

रिजर्व बैंक ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के दो सहकारी बैंकों के खिलाफ कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं। बैंकों की बिगड़ती आर्थिक स्थिति को देखते हुए पाबंदियां चस्पा की गई हैं। जिन सहकारी बैंकों के खिलाफ कार्रवाई हुई है, उनमें लखनऊ को-ऑपरेटिव बैंक और अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड सीतापुर हैं। अगले आदेश तक इन दोनों बैंकों के ग्राहक अपने खाते से भी सीमित मात्रा में पैसे नहीं निकाल सकेंगे।

रिजर्व बैंक ने कहा है कि बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट के तहत कार्रवाई (banning the withdrawal entire amount from these two banks) की गई है। दोनों सहकारी बैंकों के खिलाफ अगले 6 महीने तक पाबंदी चलती रहेगी। आदेश के मुताबिक, लखनऊ अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के ग्राहक 30,000 रुपये से अधिक की राशि नहीं निकाल पाएंगे। वहीं, सीतापुर के अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के ग्राहक अपने खाते से 50,000 रुपये तक की निकासी ही कर पाएंगे। इसके साथ ही दोनों सहकारी बैंक रिजर्व बैंक की अनुमति के बगैर लोन नहीं दे सकते, कोई निवेश नहीं कर सकते, कोई लायबिलिटी पूरी नहीं कर सकते। फंड जारी करने या नए डिपॉजिट लेने पर भी रोक रहेगी। किसी प्रॉपर्टी या एसेट के डिसबर्सल या डिस्पोजल पर भी रोक रहेगी।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!