रात दो बजे मां की चीख सुनकर घबराया बेटा, बाहर का मंजर देख उड़ी नींद

अल्मोड़ा। पुलिस लाइन के पास रहने वाली सैन्य कर्मी की पत्नी की संदिग्ध परिस्थिति में जलकर मौत हाे गई। पुलिस की जांच पड़ताल में मौके से मिट्टी के तेल की दुर्गंध आती मिली। इससे यह घटना आत्महत्या और हत्या के बीच उलझ गई है। मृतका का पति भारतीय सेना में इन दिनों लखनऊ में तैनात है।

मामला धारानौला दुगालखोला रोज पर चौधरी भवन के पास का है। भारतीय सेना में तैनात सुंदर सिंह भाकुनी की पत्नी नीमा देवी (42) पुलिस लाइन से कुछ दूर किराए का कमरा लेकर रहती थीं। उसका बड़ा बेटा गौरव देहरादून में बीटेक की पढ़ाई कर रहा है। छोटा पुत्र नगर स्थित आर्मी पब्लिक स्कूल का छात्र है। उसने बताया कि वह मां के साथ शनिवार रात सो रहा था। देर रात करीब दो बजे कमरे के बाहर बाथरूम से लगे गेट के पास से नीमा देवी के चीखने की आवाजें आईं। इससे उसकी नींद टूट गई और वह मौके पर पहुंचा तो बाहर का मंजर देख वह घबरा गया। उसकी मां आग की लपटों से घिरी हुई थीं। वह उन्हें बचाने के लिए दौड़ा। चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग भी मौके पर पहुंचे, मगर तब तक नीमा बुरी तरह जल चुकी थीं और कुछ ही देर में उसने दम तोड़ दिया।

धारानौला चौकी प्रभारी अमरपाल ने मुआयना किया। पूछताछ में पता लगा कि नीमा देवी कुछ समय से अवसादग्रस्त थीं। हाल ही में वह देहरादून से उपचार कराकर लौटी थीं। डेढ़ माह पूर्व ही उसका फौजी पति घर आया था। पुलिस के मुताबिक कमरे के बाहर घटना स्थल पर मिट्टीतेल की बदबू आ रही थी। प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या प्रतीत हो रहा है। फिर भी पुलिस ने प्रत्येक बिंदू पर जांच शुरू कर दी है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

 

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे वाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*