यूपी : महिला जज से छेड़खानी, एक महीने से परेशान कर रहा था आरोपी, करता था ताक-झांक

347
#Molestation with female judge
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां जिला सत्र न्यायालय में तैनात महिला सिविल जज से छेड़खानी (Molestation with female judge) का मामला सामने आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है। आरोप एक वकील पर है, जो एक महीने से सिविल जज को परेशान कर रहा था। महिला सिविल जज ने अधिवक्ता पर जबरन मोबाइल पर मैसेज भेजने, टहलने के दौरान अक्सर कॉमेंट बाजी करने और गलत निगाह से घूरने का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपी वकील के खिलाफ छेड़छाड़ और अश्लीलता करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

जिला अदालत में नियुक्त महिला सिविल जज के फोन पर वकील मो. हारून काफी समय में मैसेज भेज रहा था। मॉर्निंग, इवनिंग वॉक करने के दौरान वो जज का पीछा करते हुए अक्सर कमेंट करते हुए छेड़खानी करता था। जज द्वारा कई बार मना करने के बाद भी जब वो नहीं माना तो उन्होंने हमीरपुर कोतवाली में वकील मो. हारून के खिलाफ मामला दर्ज करवा दिया। तहरीर में जज ने बताया कि आरोपी वकील हमेशा उनका पीछा करता था और उनकी कोर्ट तक आ जाता था। कोर्ट की दीवार से ताक-झांक करता था। जब वह शाम के समय टहलने यमुना तटबंध में जाती थीं तो वकील वहां भी पहुंचकर गंदे-गंदे कमेंट पास करता था (Molestation with female judge)।

महिला जज ने बताया कि वकील मो. हारून पिछले एक महीने से उनको परेशान कर रहा था और बगैर किसी काम के उनकी कोर्ट में पहुंचकर उनको घूरता रहता था, जिसके चलते उनको काम करने में भी परेशानी सामना करना पड़ता था।

वहीं इस मामले में हमीरपुर बार संघ अध्यक्ष दिनेश शर्मा का कहना है कि उन्हें भी इस मामले की जानकारी हुई है। अगर यह घटना सही है तो वो वकील के इस कृत्य का निंदा करते हैं और ऐसे वकील को अपने संघ से अलग करते हुए बार काउंसिल को पत्र लिखकर उसका लाइसेंस निरस्त करने की सिफारिश करेंगे।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।