स्कूल जाने से बचने के लिए जाना चाहता था जेल, इसलिए 8वीं कक्षा के अपने दोस्त की कर दी हत्या

322
murder of auto driver for 20 rupees apple
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में हत्या की एक चौकाने वाली वारदात सामने आई है। यहां 16 साल के दसवीं के छात्र ने आठवीं में पढ़ने वाले अपने दोस्त नीरज कुमार (13) की हत्या कर दी (10th class student murdered his friend )। हत्या भी सिर्फ इसलिए की, ताकि उसे स्कूल न जाना पड़े।

गला दबाकर नीरज की हत्या करने के बाद वह पुलिस चौकी पहुंचा और पुलिसवालों से कहा कि उसे जेल भेज दो, वह पढ़ना नहीं चाहता है। पहले तो उस पर यकीन नहीं हुआ लेकिन जब उसकी बताई गई जगह पर नीरज का शव मिला तो पुलिसवाले चौंक गए। उसने पूछताछ में बताया कि पहले बात करते-करते अचानक से नीरज का गला दबाया और फिर कांच की बोतल से गला काटने की कोशिश की। इसके बाद उसे हिला-डुलाकर देखा। मौत (10th class student murdered his friend ) हो जाने की पुष्टि के बाद ही वह वहां से गया।

यह भी पढ़ें 👉  कारोबारी के घर सशस्त्र बदमाशों का धावा, लाखों की नगदी और सोना लूटा

मामला गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र के ननकागढ़ी गांव का है। नीरज और आरोपी के घर पड़ोस में हैं। दोनों साथ खेलने जाते थे। आरोपी से पूछताछ के हवाले से एसपी देहात डॉ. ईरज रजा ने बताया, उसे स्कूल जाना अच्छा नहीं लगता था। परिवार के लोग दबाव बनाकर भेज देते थे लेकिन वहां उसका मन नहीं लगता था। वह पढ़ाई में कमजोर था, अंक बहुत कम आते थे। महीने में दस से ज्यादा छुट्टी कर लेता था। उसने बताया है कि उसने कई जगह सुना कि जेल में पढ़ाई नहीं होती है। इसी से यह सोच लिया कि अगर वह जेल चला जाए तो पढ़ाई से छुटकारा मिल जाएगा। इसके बाद वह जेल जाने के तरीके सोचने लगा। उसे लगा कि हत्या के जुर्म में जेल में लंबे समय रहेगा, इसलिए यह वारदात की। मंगलवार को उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  ब्लैकमेलिंग से परेशान युवती फांसी के फंदे में झूली, सुसाइड नो‌ट हुआ बरामद

आरोपी ने पुलिस को ये भी बताया कि उसने हत्या की साजिश कई दिन पहले तैयार कर ली थी। वह नीरज को रोज शाम को खेलने के बहाने ले जाता था। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के फ्लाईओवर के नीचे हत्या करना चाहता था। पिछले तीन दिन से इसकी कोशिश कर रहा था लेकिन मौका हाथ नहीं आ रहा था। वहां कोई न कोई आ जाता था। सोमवार को उसे दोपहर साढ़े तीन बजे ले गया था। मौका मिलते ही साढ़े पांच बजे हत्या कर दी। इसके बाद सीधे चौकी पहुंच गया। आरोपी दो भाइयों में बड़ा है। उसके पिता निजी कंपनी में कर्मचारी हैं। नीरज के पिता विनोद ने तहरीर दी है।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें 👉  ब्लैकमेलिंग से परेशान युवती फांसी के फंदे में झूली, सुसाइड नो‌ट हुआ बरामद

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।