spot_img

फ्री में मछली न देने पर पीट-पीटकर कर दी हत्या, सरिया से फोड़ दी आंखें

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी। नैनीताल जिले में भयानक वारदात सामने आई है। यहां एक युवक को सिर्फ इसलिए पीट-पीटकर मार डाला (Beaten to Death) गया, क्योंकि उसने चार आरोपी युवकों को मुफ्त में मछली नहीं दी थी। यही नहीं, आराेपी युवकों ने हैवानियत दिखाते हुए सरिया डालकर मछली विक्रेता की आंखें तक फोड़ डाली और फिर दो मंजिला छत से नीचे फेंक दिया। इस जघन्य वारदात (Beaten to Death) के आठ दिन बाद युवक ने हल्द्वानी के निजी अस्पताल में दम तोड़ दिया। युवक के ताऊ की तहरीर पर चारों आरोपी युवकां पर हत्या (Beaten to Death) का मुकदमा दर्ज किया गया है।

मामला ओखलकांडा ब्लाक के ग्राम पतलिया नरतोला का है। यहां के निवासी भगवान सिंह पडियार (33) की गांव में मछली की दुकान थी। घरवालों ने बताया कि दो नवंबर को शाम सात बजे भगवान ने दुकान बंद कर दी थी। इसी बीच गांव के चार युवक मछली लेने के लिए पहुंच गए। मछली लेने के बाद युवकों ने रुपये नहीं दिए और मुफ्त में मछली देने के लिए धमकाने लगे। विरोध करने पर आरोपितों ने भगवान सिंह को सरिया, धारदार हथियार से पीटना शुरू कर दिया। आंख में भी सरिया घुसेड़ दी। इतने में दिल नहीं भरा तो आरोपितों ने युवक को दोमंजिला छत से नीचे फेंक दिया।

वारदात के बाद घायल को इलाज के लिए हल्द्वानी के निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। मारपीट के बाद युवक बेहोश था। बुधवार को उसने दम तोड़ दिया। राजस्व पुलिस की ओर से भगवान सिंह के ताऊ गणेश सिंह की तहरीर पर चंचल सिंह, खुशाल सिंह, सुनील जोशी और भूपाल सिंह पर हत्या (Beaten to Death)) का केस दर्ज किया गया है।

140 रुपये मांगने पर ले ली जान

घर वालों ने बताया कि गणेश तीन भाइयों में इकलौता ऐसा था जो घर पर ही रहकर अपनी चिकन शाप की दुकान चलाता था। उसके दो भाई आर्मी में हैं, जबकि पिता भी आर्मी से ही सेवानिवृत्त हैं। भगवान की चार और डेढ़ साल की दो बेटियां हैं। दो नवंबर को चार आरोपी दुकान पर एक किलो मछली लेने पहुंचे थे। 140 रुपये मांगने पर उन्होंने गणेश को बेरहमी से पीटने के बाद अधमरा कर दिया था। इसके बाद फरार हो गए थे।

ऐसे ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles