एमटेक के छात्र ने छोटी बहन और मां को खाने में जहर देकर मार डाला, इसलिए उठाया इतना खौफनाक कदम

न्यूज जंक्शन 24, हैदराबाद।

कहते हैं ज्यादा लाड प्यार भी कभी-कभी बड़ी मुसीबत बन जाता है। हैदराबाद शहर में घटी घटना कुछ ऐसा ही संकेत दे रही है। यहां एमटेक के एक छात्र ने सट्टेबाजी में हार का कर्ज चुकता करने के लिए अपनी मां और बहन को ही मौत के घाट उतार दिया। हत्यारोपी एमटेक द्वितीय वर्ष का छात्र है।
पुलिस के अनुसार हैदराबाद शहर में एक पौष कॉलोनी में एक परिवार रहता है। परिवार में एक महिला अपने एक बेटी और बेटे के साथ रहती है। बेटा एमटेक द्वितीय वर्ष का छात्र है वह अपने दोस्तों की संगत में पड़कर जल्द अमीर बनने की चाहत में सट्टेबाजी में पड़ गया। लत ऐसी लगी की धीरे-धीरे वह 25 लाख रुपए का कर्जदार बन गया। इतनी बड़ी रकम में कुछ पैसा उसने खुद जुटाया था और बाकी का इंतजाम उसके दोस्तों ने कराया। जब रकम को चुकाने का दबाव बढ़ने लगा तो वह परेशान रहने लगा। घर में ना रहकर अधिकांश समय बाहर गुजार रहा था। मां को लगता था कि पढ़ाई लिखाई के कारण वह बिजी रहता है। लेकिन छात्र के दिमाग में तो कुछ और ही चल रहा था। परेशान होने पर जब कोई रास्ता नहीं सूझा तो उसने अंत में अपनी मां और बहन को ही मौत के घाट उतारने का फैसला कर लिया। 28 तारीख को उसने चुपचाप खाने में जहर मिला दिया और खुद पेट खराब होने का बहाना बनाकर खाना नहीं खाया। जब मां और बहन खाने बैठी तो उसके कुछ ही देर बाद उनकी हालत खराब हो गई। किसी को शक ना हो लिहाजा वह मां और बहन को लेकर अस्पताल दौड़ गया। उनकी हालत बिगड़ती गई और देर रात उन्होंने दम तोड़ दिया। छात्र की भूमिका से कुछ लोग वाकिफ थे, उन्होंने शक के आधार पर पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने छात्र को पकड़ जब सख्ती बरती तो उसने सबकुछ सच उगल दिया। छात्र को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि छात्र ने बताया कि मां ने उसको डिपॉजिट रकम और संपत्ति में नॉमिनी बना रखा है। मारकर वह इस रकम से उधार चुकता करना चाहता था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*