जेल में बंद परिजनों से मिलवाने के लिए महिला से कर डाली घिनौनी डिमांड, फिर हुआ यह

सितारगंज। जेल का एक बहुत सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां जेल में तैनात चार बंदी रक्षकों पर जेल में बंद कैदियों की पत्नियों से अश्लील बातें करने और उनके परिजनों से मिलवाने के लिए अनुचित डिमांड करने का आरोप लगा है। एक महिला की शिकायत पर कराई गई जांच में मामला सही निकलने पर मुकदमा दर्ज किया गया है।
रुद्रपुर निवासी एक महिला ने डीजीपी अशोक कुमार को एक शिकायती पत्र भेजा था। जिसमें उसने बताया कि उनके परिजन जेल में बंद हैं। कई बार वह उनसे मिलने जेल गई हूं। मिलवाने के लिए जेल में तैनात बंदी रक्षक प्रभु सिंह, अश्विनी शर्मा, पंकज नागियान व दुष्यंत सिंह ने उसका नम्बर ले लिया था। जिस पर वह जब-तब फोन कर अश्लील बातें करते हैं और परिजनों से मिलवाने के लिए अनुचित डिमांड कर रहे हैं। महिला ने बंदी रक्षकों पर सजायाफ्ता बंदियों को जेल में मोबाइल, ब्लूटूथ, नशीले पदार्थ उपलब्ध कराने के लिए भी पैसे की सौदेबाजी करने और पैसे एकाउन्ट में मांगने का आरोप लगाया।
महिला के शिकायती पत्र की जाँच क्षेत्राधिकारी सितारगंज से कराई गई। जिसमें आरोपों की पुष्टि हो गई। जिस पर चारों बंदीरक्षकों के विरुद्ध छेड़छाड़ समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। जल्द ही इनके खिलाफ एक्शन लेने की तैयारी चल रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*