मुख्यमंत्री योगी के गढ़ गोरखपुर में ही भाजपा विधायक के भाई व उसके दोस्त को पुलिस ने बुरी तरह पीटा, यह बात बनी वजह

 

 

 

न्यूज जंक्शन 24, गोरखपुर।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के गढ़ में ही पुलिस भाजपाइयों पर कहर बनकर टूट पड़ी। सोमवार शाम कार से स्कूटी में ठोकर लगने के मामले में हुई कहासुनी के बाद पहुंची पुलिस ने विधायक महेंद्र पाल सिंह के भाई रमाशंकर सिंह और उनके दोस्त राहुल को सड़क से लेकर थाने तक बेरहमी से पीटा। गुस्साए भाजपाइयों ने एसएसपी का घेराव किया जिस पर एसएसपी ने मामले की जांच सीओ को सौंपी है।

गुलरिहा क्षेत्र स्थित जमुनारा महराजगंज निवासी व पिपराइच से भाजपा विधायक महेंद्र पाल सिंह के भाई रमाशंकर सिंह की कार शाहपुर क्षेत्र स्थित बशारतपुर निवासी राहुल ने मांगी थी। एचएन सिंह चौराहे के पास कार से एक स्कूटी पर ठोकर लग गई। स्कूटी एक किशोर चला रहा था। किशोर की राहुल से कहासुनी हो गई। किशोर ने फोन कर अपनी परिचित एक किशोरी को बुला लिया। किशोरी ने फोन कर पुलिस कर्मियों को सूचना दे दी। किशोरी की सूचना पर एक दरोगा और दो सिपाही मौके पर पहुंच गए और उन्होंने राहुल को पीटना शुरू कर दिया। इस बीच राहुल ने भी फोन कर विधायक महेंद्र पाल सिंह के भाई रमाशंकर सिंह को घटना की जानकारी दे दी। रमाशंकर सिंह भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पुलिस कर्मियों को राहुल को पीटने से रोका तो वे उनसे भी भिड़ गए।

पुलिस कर्मियों ने राहुल और रमाशंकर सिंह को उनकी ही कार में बैठा लिया और शाहपुर थाने पर लेकर चले गए। आरोप है कि रास्ते में कार में भी पुलिस कर्मियों ने राहुल को पीटा। थाने पर ले जाने के बाद दोनों को पुलिसकर्मी एक कमरे में ले गए। इस बीच एक सिपाही ने थाने पर मौजूद इंस्पेक्टर को घटना की जानकारी दी। इंस्पेक्टर बाहर निकलते, इससे पहले ही पुलिसकर्मी कमरे में घुस गए और रमाशंकर और राहुल को पीटना शुरू कर दिया। थानेदार बाहर निकले तो उन्होंने दोनों को बाहर बुलवाया और सिपाहियों को डांटा। रमाशंकर के साथ घटी घटना की जानकारी उनके भाई विधायक महेंद्र पाल सिंह को हो गई। वह तत्काल एसएसपी कार्यालय पहुंचे। एसएसपी ने दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया।

 

 

 

एसएसपी ने बताया कि विधायक महेंद्र पाल सिंह के भाई को पीटने की जानकारी हुई है। मामले की जांच सीओ गोरखनाथ को सौंपी गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद जो भी पुलिसकर्मी मारपीट करने का दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*