घिसे-पिटे टायरों पर दौड़ रही लालकुआं की 108 आपातकाल सेवा, मरीजों को बड़ा खतरा

राजू अनेजा, लालकुआं। क्षेत्र के गंभीर मरीजों को हल्द्वानी अस्पताल तक पहुंचाने वाली जीवनदायिनी 108 की हालत इतनी नाजुक हो चुकी है कि घिसे हुए टायरों की वजह से लालकुआं से अस्पताल तक पहुंचने में कभी भी बड़ा हादसा घटित हो सकता है।

लालकुआं बिंदुखत्ता क्षेत्र के गंभीर मरीजों को आपातकाल में हल्द्वानी स्थित अस्पताल तक पहुंचाने के लिए एकमात्र आपातकालीन एंबुलेंस सेवा 108 का सहारा रहता है। यही नहीं, क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं को प्रसव पीड़ा के दौरान हल्द्वानी अस्पताल पहुंचने के लिए भी इसी का सहारा रहता है, परंतु कई दिनों से आपातकाल के नाम पर कोतवाली क्षेत्र में खड़ी 108 एंबुलेंस के टायरों की हालत इतनी खराब हो चुकी है कि टायर के निचले हिस्से के तार भी बाहर की ओर झांक रहे हैं। खराब टायरों के चलते कभी भी कोई बड़ा हादसा होने की प्रबल आशंका बनी हुई है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि मरणासन्न अवस्था में चल रही है 108 सेवा मरीजों को स्वस्थ बनाने के बजाय उनकी जानमाल पर भारी पड़ सकती है।

एंबुलेंस का टायर पूरी तरह सड़ चुका है।

लालकुआं वालों के लिए खटारा एंबुलेंस और ओखल कांडा भेज दी सही

108 सेवा के नैनीताल जिले के डिस्ट्रिक्ट प्रोजेक्ट मैनेजर लोकेश जोशी से इस मुद्दे पर बात की गई तो उन्होंने बताया कि यह एंबुलेंस पहले ओखलकांडा क्षेत्र में लगाई गई थी। काफी दिनों से टायर खराब होने की शिकायत मिल रही थी, जिसके चलते लालकुआं की एंबुलेंस को ओखलकांडा भेजा गया है और ओखलकांडा से खराब स्थिति में लाई गई एंबुलेंस को मेंटेनेंस के लिए लालकुआं लाया गया है। इसमें अभी भी टायर खराब होने की शिकायत मिल रही है। जल्द ही इसके टायर बदलवा कर सभी समस्याओं का निवारण किया जाएगा।

सिर्फ नाम के लिए ही आपातकाल

क्षेत्रवासियों का कहना है कि लालकुआं में आपातकाल के लिए लगाई गई 108 सेवा में आपातस्थिति में स्टाफ मौजूद नहीं रहता है, जिसके चलते कई बार मरीजों को हल्द्वानी पहुंचने के लिए अन्य साधन की राह ताकनी पड़ती है। युवा कांग्रेसी नेता भुवन पांडे ने बताया कि विगत दिनों उनके रेस्टोरेंट्स का कर्मचारी अचानक चलते-चलते कोतवाली चौराहे पर गिर गया था। स्थानीय लोगों की मदद से जब 108 से संपर्क किया गया तो लालकुआं कोतवाली में खड़ी इस एंबुलेंस में स्टाफ मौजूद नहीं था। करीब आधे घंटे बाद जब 108 में ड्राइवर आया, तब जाकर मरीज को हल्द्वानी ले जाया जा सका। कांग्रेसी नेता भुवन पांडे ने बताया कि लालकुआं में 108 सेवा की हालत काफी दयनीय स्थिति में है। स्वास्थ्य विभाग को घनी जनसंख्या वाले लालकुआं क्षेत्र में आपातकाल के लिए लगाई गई जीवनदायिनी 108 के मेंटेनेंस पर ध्यान देना चाहिए, ताकि लोगों को आपातकल में कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*