बरेली में गेहूं खरीद केंद्र शुरू होते ही बिचौलिए भी सक्रिय

बरेली, ज्योति पांडे
बरेली मंडल में गेंहू खरीद केंद्र शुरू हो गए हैं। मंडल में खुले 453 क्रय केंद्रों में से 371 पर खरीद भी शुरू हो गई। बरेली जिले में 117 में से खरीद शुरू होने वाले केंद्रों की संख्या 65 है। केंद्र खुलते ही बिचौलिए भी सक्रिय हो गए हैं। गेंहू क्रय केंद्रों पर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरी तरह से पालन नहीं हो रहा है।


गेंहू कटाई के साथ ही अब खरीद के सरकारी केंद्र भी शुरू हो गए हैं। प्रदेश सरकार ने सभी केंद्रों पर बिना रोकटोक के खरीद के आदेश किये हैं। अब तक मंडल में 6890 मीट्रिक टन गेंहू खरीदा जा चुका है। अभी 453 क्रय केंद्रों में से 371 पर ही खरीद शुरू हुई है। तौल प्रक्रिया के रफ्तार न पकड़ने की सबसे बड़ी वजह धीमी कटाई है। मजदूर ना मिलने से जिले में तीन चौथाई गेंहू अभी भी खेतों में खड़ा है। क्रय केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना अधिकारियों के लिए मुसीबत बना हुआ है।

नवाबगंज क्रय केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिग नजर नहीं आ रही है। आंवला क्षेत्र में खुले केंद्रों पर भी व्यवस्थाएं बदहाल मिली। कम भीड़ होने के बाद भी किसानों को काफी इन्तज़ार करना पड़ रहा है। बिचौलिए इसका भी फायदा उठाने की कोशिश में हैं। कुछ गांवों से क्रय केंद्रों की दूरी काफी अधिक है। क्रय केंद्र तक जाने में भाड़ा भी अधिक लगता है। ऐसे में बिचौलिए गांव-गांव जाकर ही खरीद कर खुद क्रय केंद्रों पर बेचने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

कोरोना से बचाव के नहीं समुचित उपाय
क्रय केंद्रों पर कोरोना से बचाव के भी समुचित उपाय नहीं हो रहे हैं। जिन वाहनों से अनाज आ रहा है उनको सैनिटाइज नहीं किया जा रहा है। खरीद केंद्रों पर संक्रमण से बचाव से बचाव की व्यवस्था भी बदहाल है। हालांकि सभी केंद्रों पर आने वाले लोगों को सैनिटाइज करने की व्यवस्था की गई है। आरएमओ राममूर्ति वर्मा ने मीडिया को बताया कि क्रय केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग बनाने में कुछ परेशानियां आ रही हैं। इन्हें दूर करने के लिए केंद्र प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं। जल्द सभी केंद्रों पर व्यवस्थाएं दुरुस्त हो जाएंगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*