News in uttrakhand : उत्तराखंड में प्रसव पीड़ा होने पर ट्रेन रोकी, जीआरपी ने अदा किया यह फर्ज

 

लक्सर: अमृतसर-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन में सफर कर रही महिला को प्रसव पीड़ा होने पर ट्रेन को लक्सर में रोका गया। टीटीई की सूचना पर कंट्रोल रूम से जानकारी मिलने के बाद तत्परता दिखाते हुए जीआरपी ने महिला को नगर के अस्पताल पहुंचाया, जहां महिला ने सामान्य प्रसव में नवजात को जन्म दिया। मां-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। महिला और उनके पति ने जीआरपी तथा रेलवे अधिकारियों का आभार जताया।
जनपद के चकोर गांव निवासी गांधी शाह लुधियाना की एक फैक्ट्री में कार्य करते हैं। वह अपनी पत्नी और दो बेटियों के साथ लुधियाना में ही रहते हैं। उनकी पत्नी गर्भवती थी। प्रसव का समय नजदीक आने पर गांधी शाह प्रसव के लिए पत्नी को लेकर अपने घर गया जा रहे थे। वह स्वजन के साथ हावड़ा-अमृतसर एक्सप्रेस ट्रेन में सवार थे। ट्रेन के सहारनपुर से रवाना होने के कुछ ही देर बाद उनकी पत्नी को प्रसव पीड़ा होने लगी। इस पर गांधी शाह के हाथ-पैर फूल गए। उन्होंने इसकी जानकारी कोच में मौजूद टीटीई को दी। टीटीई ने कंट्रोल रूम को इससे अवगत कराया। कंट्रोल रूम से जानकारी मिलने के बाद स्टॉपेज नहीं होने पर भी ट्रेन को लक्सर में कुछ देर के लिए रोका गया। साथ ही, इसकी सूचना जीआरपी को दी गई। जीआरपी थानाध्यक्ष सुभाषचंद्र ने सूचना मिलते ही पुलिसकर्मियों को महिला के लिए वाहन व दूसरी व्यवस्थाएं करने को कहा। इसके बाद वह स्वयं प्लेटफार्म पर पहुंच गए। ट्रेन के रुकते ही महिला को ट्रेन से उतारकर लक्सर के एक निजी अस्पताल में पहुंचाया गया, जहां सामान्य प्रसव के बाद महिला ने नवजात को जन्म दिया। प्रसव के बाद महिला और नवजात दोनों स्वस्थ हैं। वहीं गांधी शाह और उनके स्वजनों ने जीआरपी और रेलवे अधिकारियों का आभार जताया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*