spot_img

Corona update : उत्तराखंड में अलर्ट, मुख्यमंत्री ने जारी किए यह कड़े आदेश

 

देहरादून : कोरोना के बढ़ते मामलों और नए वैरिएंट ओमिक्रोन के संभावित खतरे को देखते हुए सरकार गंभीर हो गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज बैठक कर इस पर सख्त निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि कोविड नियमों का पालन हर हाल में सुनिश्चित किया जाए।

मुख्यमंत्री धामी ने सभी कोरोना योद्धाओं का अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कोविड रोधी वैक्सीन की पहली डोज लगा चुके व्यक्तियों के लिए दूसरी डोज सुनिश्चित करने को हर घर दस्तक अभियान में तेजी लाने को कहा है।

मुख्यमंत्री ने प्रतिदिन जांच का लक्ष्य बढ़ाते हुए 25 हजार जांच करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन व एयरपोर्ट पर रैंडम जांच के भी निर्देश दिए हैं।

सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में शासन के वरिष्ठ अधिकारियों व जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की।

उन्होंने कहा कि कोविड सैंपलिंग को बढ़ाने के साथ ही संक्रमित पाए गए मरीजों के संपर्कों की शत-प्रतिशत खोज की जाए। जिन व्यक्तियों में वायरल के लक्षण हैं, उन सभी की आरटीपीसीआर जांच सुनिश्चित की जाए। संक्रमित पाए गए व्यक्तियों के सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे जाएं।

आमजन को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी दिशा-निर्देशों का पालन करने को प्रेरित किया जाए। इसके लिए जनजागरूकता अभियान चलाया जाएगा। मास्क और सुरक्षित शारीरिक दूरी के मानकों का अनुपालन कराने को भीड़भाड़ वाले इलाकों में पुलिस कर्मियों की तैनाती की जाए।

उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को कोरोना जांच के लिए दिए गए लक्ष्यों को पूरा करने के निर्देश देते हुए कहा कि इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न हो। अंतरराष्ट्रीय यात्राओं से आने वाले यात्रियों के संबंध में केंद्र सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहली और दूसरी लहर के दौरान बढ़ाई गई स्वास्थ्य सेवाओं जैसे आइसीयू, आक्सीजन, वेंटिलेटर आदि की जांच करा ली जाए। एक सप्ताह बाद फिर से इसकी समीक्षा की जाएगी। सचिव स्वास्थ्य डा पंकज कुमार पांडेय ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए 331 मोबाइल टीमें गठित की गई हैं।

कोविड की तीसरी लहर से संबंधित सभी तैयारियां पूरी हैं। तीसरी लहर पर निगरानी और नियंत्रण संबंधी व्यवस्था के लिए स्टेट टास्क फोर्स का गठन कर दिया गया है। दून मेडिकल कालेज में प्रत्येक कोविड पाजिटिव की जीनोम सिक्वेंसिंग की जाएगी।

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री डा धन सिंह रावत, मुख्य सचिव एसएस संधु, अपर मुख्य सचिव आनंद वद्र्धन, अपर प्रमुख सचिव अभिनव कुमार, सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी के अलावा वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से मंडलायुक्त व सभी जिलाधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles