मिट्टी में मिल जाएगी देहरादून की ऐतिहासिक कनॉट प्लेस बिल्डिंग, प्रशासन ने शुरू की उल्टी गिनती

198
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून। राजधानी देहरादून के ऐतिहासिक भवनों में से एक कनॉट प्लेस की मंसाराम बिल्डिंग अब जमींदोज हो जाएगा। प्रशासन ने इसे गिराने की तैयारी शुरू कर दी है। 21 सितंबर को इस भवन को गिरा दिया जाएगा।

5 एकड़ से अधिक क्षेत्रफल में फैली इस बिल्डिंग में ढाई सौ से अधिक दुकानें और कई आवासीय भवन है। इसे देहरादून में रहने वाले सेठ मंसाराम ने 1934 से 40 के बीच में बनवाया था। बताया जाता है कि मंसाराम ने उस वक्त इस विशालकाय भवन में उन लोगों को पनाह दी थी जो लोग बंटवारे के बाद देहरादून आए थे। आज इस इमारत में लगभग 250 से अधिक दुकानें हैं, जिनके ऊपर आवासीय कमरे बने हुए हैं। हालांकि, काफी समय पहले भवन की स्थिति को देखते हुए इसे जर्जर घोषित कर दिया गया था। यही कारण है कि प्रशासन इसे अब गिराने की तैयारी कर रहा है। अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश अनुसार 21 सितंबर 2022 को इसे ध्वस्त कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  आंधी-तूफान के साथ बरसे मेघ, कार में पेड़ करने से एक की मौत

इस भवन के गिरने के बाद जहां एक ओर यहां दुकान करने वाले व्यापारियों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो जाएगा तो वहीं यहां के आवसीय भवनों में रहने वाले परिवारों को भी अपने सिर की छत छिनने की चिंता सता रही है। दशकों से यहां रह रहे लोगों का कहना है कि उन्होंने अपनी जीवन यहीं पर बिताया है। इस बिल्डिंग से उनकी कई यादें जुड़ी हैं। ऐसे में इसे गिरा देने के बाद उनके लिए पनाह ढूंढना मुश्किल हो जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  गंगा में नहाते समय बह गया युवक, तलाश में जुटी पुलिस और एसडीआरएफ

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।