योगी का राजधर्म देख भावुक हुए डॉ कौशल, लिख डाली एक कविता

बरेली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का सोमवार को निधन हो गया। उनके निधन की सूचना के बाद भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक को नहीं छोड़ा। यहां तक कि वे लॉकडाउन के कारण वो अपने पिता के अंतिम संस्कार में भी शामिल होने नहीं जा रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस राजधर्म ने
ईशान अस्पताल के डॉ कौशल कुमार को भी भावुक कर दिया। डॉ कौशल योगी जी के दिल के अंतर्द्वंद में बसे भावों को प्रस्तुत करते हुए कर्त्तव्य बोध नाम से कविता लिख डाली,

मन व्यथित
ह्वदय विदीर्ण है
पर
कर्त्तव्य बोध से
बंधा हूँ मैं
छोड गये तुम
नश्वर शरीर
पर
तुम्हारी आत्मा से
जुड़ा हूँ मैं
पी गया मैं
सारे ऑंसू
कि
कर्मकाण्ड से
कर्म बड़ा है
निकल पड़ा मैं
जिस जीवन पथ पर
यहाँ जीवन आस
लगाये खड़ा हैं ( दूसरों का जीवन )
स्वीकार करो
मेरा नमन तुम
दिल भारी
और आंखे नम हैं
पर
कर्त्तव्य बोध से
बंधा हूँ मैं।।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*