spot_img

पापा मेरी बैक आने से दुखी होंगे, इसलिए मैं ही फांसी लगा ले रही हूं…अल्मोड़ा में बेटी ने उठाया यह खौफनाक कदम

 

न्यूज जंक्शन 24, अल्मोड़ा : छात्र कभी-कभी ऐसा सदमा दे देते हैं, जिसकी उम्मीद परिजनों को भी नहीं होती। जिले में एक बेटी ने फांसी इसलिए लगा ली कि उसे बीएससी के रसायन विज्ञान के प्रश्नपत्र में बैक आने की आशंका थी। सिर्फ इसी के चलते फंसी पर झूल गई। साथ ही सुसाइड नोट भी लिख गई जिसमें उसने लिखा कि पापा मुझे पढ़ाने में बहुत सपोर्ट करते हैं ऐसे में उसकी बैक आ गई तो वह बहुत दुखी होंगे। लिहाजा मैं पहले ही उनसे दूर हो जा रही हूं।

बाड़ेछीना निवासी 18 वर्षीय नेहा जीना पुत्री भुपाल सिंह जीना एसएसजे परिसर अल्मोड़ा में बीएससी तृतीय सेमेस्टर की छात्रा है। वह यहां सुनारी मोहल्ले में किराए के भवन में रहती थी। गुरुवार को पूरा दिन वह कमरे में ही थी। दोपहर को पड़ोसियों ने कमरा खोलने की कोशिश की लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था।

काफी देर तक भी दरवाजा नहीं खुलने पर खिड़की से शव लटका दिखा। पड़ोसियों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा खोला। इस दौरान छत के कुंडे में शव फंदे से लटका हुआ था। पुलिस ने शव को नीचे उतारा, युवती के बाएं हाथ की नस काटने के निशान भी थे। कमरे की तलाशी लेने पर शव के पास एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ।

सुसाइड नोट में युवती ने लिखा था कि उसे कैमिस्ट्री में बैक आने की आशंका है, उसके पिता यह बर्दाश्त नहीं कर पाएंगे। जिसके चलते वह आत्महत्या कर रही है। एसएसआइ अंबी राम ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। शव के पास सुसाइड नोट और ब्लेड बरामद हुई है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!