spot_img

पूर्णागिरि मेला 29 मार्च से, पर दर्शन का मन बनाने से पहले जान लें यह नियम

 

चम्पावत।। उत्तर भारत का सुप्रसिद्ध पूर्णागिरी देवी मेला 29 मार्च से शुरू होने जा रहा है। इसके लिए पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। शनिवार को प्रशासन और मंदिर प्रबंधन की संयुक्त बैठक में यह फैसला लिया गया। अधिकारियों ने कहा कि अगर हालात सही रहे तो मेला 1 महीने के लिए और आगे बढ़ाया जाएगा। आज हुई बैठक में यह तय किया गया कि मास्क और 2 गज की दूरी का पालन हर हाल में सुनिश्चित कराया जाएगा। अक्सर देखने में आता है कि मंदिर द्वार पर दर्शन पाने के लिए बहुत ही आसपास श्रद्धालु लाइन लगाकर खड़े हो जाते हैं, मगर इस बार ऐसा नहीं होगा।
सुना जा रहा है कि श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ने पर बीच-बीच में बैरियर की भी व्यवस्था की जा सकती है। जो लोग मास्क नहीं पहने होंगे या फिर बीमार दिखेंगे उन को मंदिर में प्रवेश से रोक दिया जाएगा। हालांकि प्रशासन ने मेले में जगह-जगह पढ़ने वाले पड़ाव पर कोरोना बूथ बनाये जा रहे हैं। ताकि किसी भी श्रद्धालु की खराब हालत को भागते हुए उसकी जांच कराई जा सके।
प्रशासन ने मंदिर प्रबंधन से भी अनुरोध किया है कि वह कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जारी नियमों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराएं इसमें किसी भी प्रकार की ढिलाई बर्दास्त करने लायक नहीं होगी।

Related Articles

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!