कोरोना को लेकर दुकानदार ने दिया विज्ञापन, सामान खरीदने पर 24 घण्टे में संक्रमित हुए तो 50 हजार का कैशबैक

199
खबर शेयर करें -

एनजेआर, नई दिल्ली। ‘दुकान से सामान लेने के 24 घंटे में पॉजिटिव हुए तो 50 हजार का कैशबैक!’ यह दावा करके केरल के एक दुकानदार ने लोगों को ऐसा बरगलाया कि उसकी दुकान पर खरीदारों की भीड़ लग गई। कोरोना वायरस के नाम पर ऐसी ठगी करने वाले उस दुकानदार के खिलाफ केरल पुलिस ने मामला दर्ज किया है।


यह मामला केरल के कोट्टयम जिले के एक इलेक्ट्रॉनिक दुकानदार से जुड़ा है। दुकानदार ने अपने सामान की बिक्री बढ़ाने के लिए 15 से 30 अगस्त तक एक ऑफर निकाला। इसमें दावा किया गया कि दुकान से किसी भी उपकरण की खरीद के 24 घंटे बाद अगर ग्राहक कोरोना पॉजिटिव हो जाता है तो उसे बिना जीएसटी के 50 हजार रुपये का कैशबैक दिया जाएगा। इस ऑफर का बड़े स्तर पर प्रचार कराने के लिए दुकानदार ने बाकायदा प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों पर विज्ञापन भी निकवाया। जिसके जरिए ही वह पकड़ा गया।

मुख्यमंत्री से शिकायत पर कार्रवाई

विज्ञापन देखने के बाद एक स्थानीय वकील ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा कि यह ऑफर पॉजिटिव मरीजों को कैशबैक के लालच में आकर खरीदारी करने को आकर्षित कर सकता है। जिससे संक्रमित व्यक्ति के घर से निकलने से बड़ी संख्या में स्वस्थ लोग संक्रमित हो जाएंगे। इसके बाद स्थानीय पुलिस ने दुकानदार पर कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज कर लिया है। हालांकि दुकान बंद करके दुकानदार फरार हो गया है।

पॉजिटिव होने के लिए अमेरिका में हो रही कोरोना पॉर्टी


अमेरिका के कई राज्यों में युवा कोरोना वायरस से संक्रमित होने का ऑफर करने वाली पार्टियां कर रहे हैं। इन पार्टियों से बड़ी संख्या में कालेज छात्र संक्रमित हुए हैं। गोपनीय तरीके से होने वाली इन पॉर्टियों में शामिल होने के लिए टिकट लगता है, पहले से पॉजिटिव लोगों को बतौर मेहमान बुलाया जाता है और स्वस्थ युवा उनके संपर्क में आकर संक्रमित होने की कोशिश करते हैं। पॉर्टी के सप्ताह भर के अंदर जो व्यक्ति सबसे पहले पॉजिटिव होता है, उसे टिकट से जोड़ी गई इनामी राशि दी जाती है। अमेरिका में नाइट क्लबों पर रेड करके ऐसी पार्टियों को बंद किया गया है।