spot_img

केदारनाथ धाम जाने वाले पैदल रास्ते की जमीन धंसी, रोके गए 10 हजार यात्री

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून। केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) की यात्रा पर अब मौसम ने ब्रेक लगाना शुरू कर दिया है। गौरीकुंड से दो किमी आगे पैदल मार्ग का कुछ हिस्सा बारिश के कारण हुए भूस्खलन से धंस गया (footpath going to Kedarnath Dham collapsed) है। इसके चलते सोनप्रयाग, गौरीकुंड समेत विभिन्न पड़ावों में 10 हजार से अधिक यात्रियों को आगे बढ़ने से रोक दिया गया है।

केदारघाटी सहित केदारनाथ धाम में दोपहर बाद रोज बारिश हो रही है। सोमवार रात हुई बारिश से केदारनाथ यात्रा पैदल मार्ग गौरीकुंड के निकट ध्वस्त (footpath going to Kedarnath Dham collapsed) हो गया। इस कारण सुबह के समय पर यात्रा शुरू नहीं हो पाई और गौरीकुंड में घंटों तक जाम लगा रहा। हालांकि स्थानीय प्रशासन का कहना है कि जल्द ही रास्ते की मरम्मत कर यात्रा फिर शुरू करा दी जाएगी।

यात्री हो रहे परेशान

मौसम विभाग ने दो दिन तक पहाड़ों में भारी बारिश की चेतावनी दी थी, जो कि सच साबित हुई। केदारनाथ सहित केदारघाटी में जमकर बारिश हुई। इस बारिश का असर केदारनाथ धाम की यात्रा पर पड़ना शुरू हो गया है। सोमवार रात को गौरीकुंड में पैदल मार्ग पहाड़ी से गिरे मलबे के कारण क्षतिग्रस्त (footpath going to Kedarnath Dham collapsed) हो गया। इस कारण मंगलवार सुबह यात्रा समय पर शुरू नहीं हो पाई। यात्रियों को घंटों तक गौरीकुंड में ही इंतजार करना पड़ा। यात्रा के बाधित होने से यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा (footpath going to Kedarnath Dham collapsed)।

बदरीनाथ यात्रा में भी आई रुकावट, दो घंटे बाद खुला रास्ता

उधर पंचपुलिया के पास पहाड़ी से पत्थर गिरने के कारण बदरीनाथ हाईवे भी बाधित हो गया था। हाईवे बंद होने से बदरीनाथ यात्रा थम गई थी। मार्ग खोलने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। 2 घंटे की मशक्कत के बाद मार्ग खुला. हालांकि इस दौरान बाइक सवार जान जोखिम में डालकर आवाजाही करते रहे।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!