CM योगी ने की सख्ती, इन राज्यों से UP आ रहे हैं तो साथ लानी होगी RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट, सिर्फ इन्हें मिलेगी छूट

लखनऊ। कोरोना संक्रमण को लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फिर सख्ती की है। उन्होंने आदेश दिया है कि जिन राज्यों में कोरोना संक्रमण की दर तीन फीसदी से ज्यादा है, वहां से यूपी आने पर कोरोना की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट देनी होगी। यह रिपोर्ट चार दिन के अंदर की होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कोविड को लेकर किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। टीम-9 की बैठक में उन्होंने साफ कहा कि सड़क, हवाई और निजी साधनों से आने वालों पर भी यह नियम लागू किया जाए। अधिक पॉजिटिविटी दर वाले राज्यों से यूपी आने वालों की गहन कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और टेस्टिंग की जाए। प्रदेश आगमन पर इनके एंटीजन टेस्ट और थर्मल स्कैनिंग जरूर किया जाए।

इन राज्यों से आने वालों पर बरतें सतर्कता

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर स्तर पर सतर्कता की जरूरत है। सीएम ने महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडू, ओडिसा व केरल समेत अन्य राज्यों से यूपी आने वाले लोगों की जांच तत्परता से कराने के निर्देश दिए हैं। पॉजिटिव पाए जाने पर विशेष सतर्कता बरती जाए। हालांकि मुख्यमंत्री योगी ने कोरोना के नियंत्रित हालात पर संतोष जताते हुए कहा कि अभी पूरी तरह से सावधानी बरतने की जरूरत है। हाई पॉजिटिविटी रेट वाले राज्यों से ट्रेन, हवाई जहाज एवं बस आदि से समूह में यूपी आ रहे लोग कोविड पॉजिटिव पाए जा रहे हैं। ऐसे में अन्य राज्यों से यूपी आने वाले की गहन कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और टेस्टिंग की जाए। सीएम ने स्वास्थ्य विभाग को इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी करने को कहा है।

यह भी पढ़ें : Corona in UP : उत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर इसलिए बनी घातक, सामने आया यह बड़ा कारण

यह भी पढ़ें : कल्याण सिंह फिर अस्पताल में भर्ती हुए, सूचना मिलते ही पहुंचे मुख्यमंत्री योगी। जानिए क्या कहा चिकित्सकों ने

टीके की दोनों खुराक लेने वालों को छूट

इस सख्ती के बीच हालांकि सीएम योगी ने कहा कि जो लोग टीके की दोनों खुराक प्राप्त कर चुके हों, उन्हें आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट साथ लाने से छूट दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर दिन औसतन ढाई से तीन लाख सैंपल की जांच की जा रही है, जबकि पॉजिटिविटी दर 0.04 फीसदी ही पाई जा रही है। इस स्थिति को और बेहतर बनाने के लिए ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की रणनीति के अनुरूप जरूरी प्रबंध किए जाएं। सीएम ने वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित करने को कहा।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*