एक मां ने अपनी आठ साल की बेटी की कर डाली जघन्य हत्या, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

न्यूज जंक्शन 24, फरीदाबाद

संजय कॉलोनी से लापता आठ वर्षीय बच्ची की हत्या का खुलासा काफी चौंकाने वाला हुआ है। झाड़-फूंक और प्रेत आत्मा के चक्कर में मां ने ही अपनी बच्ची की गला दबाकर निर्मम हत्या कर दी। पुलिस पूछताछ में आरोपी मां ने इस जघन्य वारदात को अंजाम देने की बात कुबूल कर ली।

मूल रूप से यूपी के प्रतापगढ़ जिले का रहने वाला राजेश यहाँ सुरक्षा गार्ड की नौकरी करता है। वह अपने परिवार के साथ मुजेसर थाना इलाके की संजय कॉलोनी में किराए पर रहता है। गुरुवार को रहस्यमय परस्थितियों में राजेश की 8 वर्षीय बच्ची लापता हो गई थी। राजेश ने बेटी की गुमशुदगी की शिकायत थाना मुजेसर में दर्ज करा दी थी। इसके बाद बच्ची का शव पलवल जिले के गांव बघौला में हाईवे से कुछ दूरी पर जंगल से बरामद किया था। सूचना मिलने पर पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर ही पहुंच गए थे। उन्होंने हत्या के कारणों की जांच की।

सीसीटीवी फुटेज ने खोला हत्या का राज

पुलिस ने बच्ची का शव मिलने के बाद माता-पिता एवं परिजनों से पूछताछ की। इस दौरान पुलिस को बच्ची की मां पर शक हुआ। पुलिस ने जब शिकायतकर्ता राजेश के घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच की तो उसमें उसकी मां बच्ची को ले जाती हुई दिखाई दी तब पुलिस का शक और गहरा गया था।

कड़ाई से पूछताछ की तो टूट गई महिला

पुलिस ने बच्ची की मां से पूछताछ की तो वह झाड़-फूंक टोना टोटका और तांत्रिक जैसी बातें करने लगीं। सख्ती से पूछताछ की तो महिला ने बताया कि उसी ने ही अपनी बच्ची की पलवल के गदपुरी इलाके के गांव बघौला में ले जाकर गला दबाकर हत्या कर दी तथा शव को वहीं पर छोड़ कर घर आ गई थी। वह किराए के ऑटो से बघौला पहुंची जहां वह बच्ची को हाईवे से उतरने के बाद पैदल ही जंगल में करीब 200 मीटर दूरी पर जंगल के बीच गला दबाकर हत्या कर दी। महिला के मुताबिक, वह झाड़-फूंक में विश्वास रखती है। वर्ष 2001 से उसमें प्रेतात्मा आती है और उसने अंधवश्विास के चलते अपनी बच्ची की हत्या की है। पूछताछ पर महिला ने बताया कि इससे एक महीने पहले भी उसने बच्ची को टंकी में डुबोकर मारने का प्रयास किया था। उसी बीच महिला का बड़ा बेटा मौके पर पहुंच गया। जिसे देखकर उसने बहाना बना दिया। इसके चलते उस दिन वह बच्ची उस दिन बच गई थी। पूछताछ के दौरान पता लगा है कि महिला तांत्रिक का दिमाग रखती है। झाड़-फूंक में विश्वास रखती है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*