भारत का टूटा सपना, न्यूजीलैंड बना दुनिया का पहला टेस्ट चैम्पियन

नई दिल्ली। टीम इंडिया को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ आठ विकेटों से हार का सामना करना पड़ा। दूसरी पारी में 170 रन पर ऑलआउट होने के बाद टीम इंडिया ने मैच जीतने के लिए न्यूजीलैंड के सामने 139 रनों का छोटा सा टारगेट रखा था, जिसे उन्होंने आसानी से दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। इसी के साथ कीवी टीम दुनिया की पहली टेस्ट चैम्पियन बन गई है।

न्यूजीलैंड की दूसरी पारी के दौरान भारतीय गेंदबाज रॉस टेलर और कप्तान केन विलियमसन का विकेट लेने में एकदम नाकामयाब रहे। आर अश्विन ने 18वें ओवर तक न्यूजीलैंड को डेवॉन कॉन्वे के रूप में दूसरा झटका दे दिया था और उस वक्त न्यूजीलैंड का स्कोर सिर्फ 44 रन था। लेकिन इसके बाद टेलर और विलियमसन के बीच एक लंबी साझेदारी हुई भारत के हाथ से जीत छिन गई।

भारतीय खिलाड़ियों ने जहां इस मैच की पहली पारी में शानदार प्रदर्शन किया था, वहीं दूसरी पारी में सभी पूरी तरह फ्लॉप रहे। बल्लेबाजी में भारत सिर्फ 170 रन पर सिमट गया। चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा जैसे बड़े-बड़े खिलाड़ी नहीं चल पाए। वहीं गेंदबाजी की बात करें तो अश्विन को छोड़कर एक भी गेंदबाज उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सका। शमी, बुमराह, ईशांत और जडेजा जैसे गेंदबाज भारत को इस मैच में सफलता नहीं दिला पाए।

144 साल बाद मिला पहला टेस्ट चैंपियन

क्रिकेट में आज तक फैंस ने वनडे वर्ल्ड कप में कई टीमों को विजेता बनते देखा है। 2007 के बाद से लगातार पूरी दुनिया को टी-20 क्रिकेट वर्ल्ड कप का भी विजेता मिल रहा है। लेकिन क्रिकेट के इतिहास के 144 सालों में अब तक एक बार भी किसी को टेस्ट वर्ल्ड कप का विजेता देखने को नहीं मिला है। लेकिन आज पहली बार दुनिया को न्यूजीलैंड के रूप में उनका पहला टेस्ट चैम्पियन मिल गया है।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*