spot_img

उत्तराखंड में अब 15 नवंबर को भी सार्वजनिक अवकाश, सरकार ने जारी किया आदेश

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून। उत्तराखंड शासन ने 14 नवंबर को इगास-बग्वाल पर्व (Igas Festival) (बूढ़ी दीवाली) पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया था, लेकिन 14 नवंबर को रविवार होने कारण अब 15 नवंबर को प्रदेश में पर्व (Igas Festival) की छुट्टी रहेगी। इसको लेकर शासनादेश भी जारी कर दिया गया है।

उत्तराखंड सरकार ने लोकपर्व इगास (Igas Festival) पर सार्वजनिक अवकाश की घोषणा करते हुए 14 नवंबर को छुट्टी की घोषणा की थी। 14 नवंबर के दिन रविवार होने के कारण इगास को लेकर पूर्व सीएम हरीश रावत ने सीएम पुष्कर धामी पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि जब इगास पर्व (Igas Festival) रविवार को पड़ रहा है तो छुट्टी देने का क्या फायदा होगा। उन्होंने कहा कि सीएम की घोषणाओं का लाभ इगास प्रेमियों को नहीं मिलेगा।

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी के MBPG College में बवाल, डीजल लेकर छत पर चढ़ा छात्रनेता, लाठीचार्ज

यह भी पढ़ें : सात फेरे लेने दूल्हा बरेली से पहुंचा हल्द्वानी, मगर पहुंच गया हवालात, जानें क्या है मामला

ऐसे में अब उत्तराखंड सरकार ने अपने शासनादेश में फेरबदल करते हुए 14 नवंबर की जगह 15 नवंबर को सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है। उत्तराखंड शासन के प्रभारी सचिव विनोद कुमार सुमन ने आदेश जारी करते हुए कहा कि 15 नवंबर को इगास बग्वाल (Igas Festival) पर बैंकों, कोषागारों और उपकोषागारों को छोड़कर प्रदेश में सार्वजनिक अवकाश रहेगा।

दरअसल, छठ पर्व पर अवकाश देने के बाद से सीएम धामी से ये लगातार मांग हो रही थी कि वो उत्तराखंड के लोकपर्वों पर भी छुट्टी घोषित करें, जिसके बाद सीएम ने ये निर्णय लेते हुए इगास पर्व (Igas Festival) पर अवकाश घोषित किया था। इससे पहले त्रिवेंद्र सरकार में भी छठ पर्व पर तो राजकीय अवकाश घोषित किया गया था, लेकिन इगास पर्व (Igas Festival) पर छुट्टी नहीं की गई थी।

उत्तराखंड में बग्वाल, इगास (Igas Festival) मनाने की परंपरा है। दीपावली को यहां बग्वाल कहा जाता है, जबकि बग्वाल के 11 दिन बाद एक और दीपावली मनाई जाती है, जिसे इगास कहते हैं। पहाड़ की लोकसंस्कृति से जुड़े इगास पर्व के दिन घरों की साफ-सफाई के बाद मीठे पकवान बनाए जाते हैं और देवी-देवताओं की पूजा की जाती है।

ऐसे ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles